बिहार सरकार ने चुनाव आयोग को धोखे में रखाः पप्पू यादव

0
77
- Advertisement -

पटना जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव की उपस्थिति में मंगलवार को इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग की बिहार यूनिट प्रगतिशील डेमोक्रेटिक अलायंस यानी पीडीए में शामिल हुई। श्री पप्पू यादव पीडीए के संयोजक हैं।

इस अवसर पर श्री यादव ने उम्मीद जतायी कि बिहार को बचाने के लिए उपेन्द्र कुशवाहा भी पीडीए में शामिल होंगे। साथी ही उन्होंने डा. प्रकाश अंबेडकर से भी सांप्रदायिक विचारधारा से लड़ने में सहयोग मांगा।

- Advertisement -

श्री यादव ने बिहार सरकार पर चुनाव आयोग से बहुत सारी बातें छिपाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि 16 जिलों के दो हजार बूथों पर पानी रहने की रिपोर्ट है। अगर वहां पानी सूख भी जाए तो इतना कीचड़ रहेगा कि वोट देना मुश्किल होगा। पानी से घिरे बूथों का जिलावार विवरण देते हुए उन्होंने बताया कि इस कारण बीस लाख से अधिक वोटर वोट देने से वंचित हो सकते हैं।

पप्पू यादव ने आरोप लगाया कि सरकार ने ऐसी खराब व्यवस्था की है कि इस कारण दो करोड़ बुजुर्ग और विकलांग वोट देने में परेशानी का सामना करेंगे। उन्होंने पूछा कि दो करोड़ लोग वोट नहीं देंगे तो लोकतंत्र कैसे बचेगा।

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार की कोशिश है कि किसी तरह केयरटेकर बनें रहें और राष्ट्रपति शासन नहीं लागू हो। ‘जाप’ अध्यक्ष और पीडीए के संयोजक ने कहा कि उनका गठबंधन इस मामले को चुनाव आयोग के साथ मिलकर उठाएगा।

अपनी पार्टी आईयूएमएल के पीडए में शामिल होने की पुष्टि करते हुए प्रदेश अध्यक्ष नईम अख्तर ने कहा कि बिहार में 30 सालों तक दो सरकारों ने जनता के साथ खिलवाड़ किया है। पीडीए इसका जवाब देगा।

इस मौके पर अखलाक अहमद (राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष), एजाज अहमद( राष्ट्रीय प्रधान महासचिव), राजेश रंजन पप्पू (राष्ट्रीय महासचिव) प्रदेश उपाध्यक्ष अवधेश लालू उपस्थित थे।

कोशी की आस@पटना

- Advertisement -