भारतीय नाई समाज ने सरकार से नाईयों के लिए आर्थिक मदद की मांग की।

0
161
- Advertisement -

भारतीय नाई समाज खगड़िया की ओर से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को संबोधित पत्र जिला अधिकारी खगड़िया के माध्यम से भेजा गया है। आवेदन देकर प्रदेश उपाध्यक्ष उमेश ठाकुर, जिला महामंत्री पांडव कुमार, विधि सलाहकार वेद प्रकाश शर्मा, जिला कार्यकारिणी सदस्य राकेश कुमार ने संयुक्त रूप से सरकार से मांग किया है कि कोरोना संक्रमण के प्रभाव के कारण संपूर्ण देश में लॉक डाउन लागू किया गया, सरकार के फैसले का भारतीय नाई समाज स्वागत करती है।

उन्होंने कहा कि नाई समाज छोटे मध्यम एवं बड़े सैलून पार्लर दुकानदार अपना रोजगार बंद कर सरकार एवं देश हित में साथ दे रही है। लेकिन रोजगार बंद हो जाने के कारण उनके आगे भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई है । नाई समाज के परिवार एवं बच्चों का भविष्य खतरे में आ चुकी है। पूरे देश में नाई समाज कई वर्षों से लगातार अपनी मांगों को लेकर धरना, सम्मेलन, प्रदर्शन आदि कर रहे हैं पर आज तक हमारी मांगों को पूरी नहीं की गई जिसके कारण नाई समाज के बच्चों का भविष्य अंधेरे में जा रही है इस लॉक डाउन मैं बंद पड़े रोजगार एवं नाई समाज के विकास के लिए हमसब भारत सरकार एवं बिहार सरकार से मांग करते हैं कि समस्त नाई समाज को छोटी मध्यम दुकानदार एवं कारीगरों को 20 20 हजार रुपये सरकारी सहायता दिया जाए।

- Advertisement -

साथ ही लॉक डाउन समाप्त के बाद तुरंत संक्रमण के प्रभाव से रोजगार चलाने में दिक्कत आएगी इसलिए नाई समाज को विशेष पैकेज पीटीई किट, सैनिटाइजर ,मास्क एवम अन्य मेडिकल सुविधाएं नाई समाज दुकानदार एवं कारीगरों का श्रमिक कार्ड मेडिकल कार्ड बनाया जाए औद्योगिक शिक्षण प्रशिक्षण संस्थान में बार्बर ट्रेड, केस कलाकार बोर्ड की स्थापना पूरे देश में लागू किया जाए।पेशा का काम करने के कारण गरीब नाई समाज को अनुसूचित जाति में शामिल किया जाए। गांव से शहर तक आर्थिक शोषण से बचने के लिए सरकार द्वारा सेवा मूल्य निर्धारित किया जाए। कोरोना संक्रमण के कारण बंद पड़े रोजगार में मकान किराया, बिजली बिल, नगर पालिका शुल्क आदि माफ कराने की कृपा की जाए जिससे नाई समाज का उद्धार हो और उनके बच्चों का भविष्य बढ़ती महंगाई में संभल सके।

मौके पर महिला विकास सेवा संस्थान के राष्ट्रीय संरक्षक मधुबाला देवी ने कहा जाति एवं वर्ग के आधार पर सरकारी सहायता मिलनी चाहिए और इस दुख की घड़ी में बेरोजगार गरीबों को अधिक से अधिक मदद करनी चाहिए हम सरकार से मांग करते हैं, नाई समाज के विकास के लिए उनके मांगों को स्वीकार किया जाए जिससे उनके परिवार एवं बच्चों का भविष्य उज्ज्वल हो सके।

अनिश चौरसिया
कोशी की आस@खगड़िया

- Advertisement -