मतदान फीसद बढ़ाने के लिए अभाविप चला रही जागरुकता अभियान : भरत सिंह जोशी

0
66
- Advertisement -

खगड़िया : बिहार विधानसभा चुनाव में मतदान प्रतिशत बढ़ाने को लेकर गुरुवार को अभाविप स्थानीय कार्यालय परिसर में अभाविप जिला कार्यसमिति सदस्यों द्वारा जिला संयोजक कुमार शानु की अध्यक्षता में प्रेस कांफ्रेंस आयोजित की गई।

अभियान को प्रभावी बनाने के लिए किया गया पंपलेट का विमोचन

- Advertisement -

प्रेस कांफ्रेंस में विश्वविद्यालय प्रमुख भरत सिंह जोशी ने मतदाता जागरूकता अभियान के लिए पंपलेट का विमोचन करते हुए कहा कि अभाविप विधानसभा चुनाव को लेकर वोट प्रतिशत बढ़ाने के उद्देश्य से संपूर्ण जिले में मतदाता जागरूकता अभियान चला रही है। जिससे अधिक से अधिक संख्या में मतदाता घर से निकल कर मतदान करें और एक जिम्मेदार प्रतिनिधि का चुनाव कर सके।

वहीं कुमार शानु ने कहा कि संपूर्ण बिहार के तरह अपने खगड़िया जिला में भी अभाविप के द्वारा मतदाता जागरण अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान को सफल बनाने हेतु जिला, प्रखंड एवं नगर स्तरीय मतदाता जागरूक जागरण अभियान समिति का गठन किया गया है। समिति द्वारा अपने अधीनस्थ क्षेत्र में वार्ड एवं बूथ स्तर तक जाकर जन जागृति हेतु व्यापक संपर्क अभियान चलाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि इस दौरान लोगों से अपील किया जाएगा कि वह जाति धर्म व संप्रदाय से प्रभावित हुए बिना अपने मनोनुकूल उम्मीदवार को समाज हित वह अपने राज हित में वोट अवश्य करें। बिना किसी लोभ लालच में आए तीन नवंबर को अपने सभी कार्यों को छोड़कर सबसे पहले अपने मतदान के अधिकार को पूर्ण करें।

मौके पर मीडिया से चर्चा में दौरान प्रदेश कार्यसमिति सदस्य राजू पासवान ने कहा कि भारत जैसे युवा देश जिसकी 65 प्रतिशत आबादी 35 वर्ष से कम है। उस देश के युवाओं की जिम्मेदारी बनती है कि वो अशिक्षित लोगों को वोट का महत्व बताकर उनको वोट देने के लिए बाध्य करे। अतः अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता जिले में मतदान प्रतिशत को बढ़ाने के लिए वचनबद्ध हैं।

वहीं प्रेस काॅन्फ्रेंस के दौरान जिला कार्यसमिति सदस्य अभीजीत निगम ने कहा कि चुनाव में मतो की खरीद बिक्री खुलेआम देखी जा सकती है। मतदाताओं को जाति, नस्ल, भाषा, धर्म आदि के नाम पर तोड़ कर कुछ लोग सत्ता की सीढी चढ़ने का प्रयास कर रहे हैं। कुछ बाहुबली अपनी ताकत और बहुबल से मतदाता को डराकर मत लेने में सफल हो रहे हैं यह लोकतंत्र के लिए खतरा है। वास्तव में यहीं जागरूकता का आभाव है। अतः हमारा प्रयास है कि हम अभियान के दौड़ान लोगों को यह शपथ दिला सकेऔ कि “हम किसी भी प्रलोभन में नहीं फंसते हुए अपने वोट का प्रयोग स्वविवेक के आधार पर पूर्ण निष्पक्षता एवं निष्ठा के साथ करेंगे।”

अनीश कुमार
कोशी की आस@खगड़िया

- Advertisement -