कोरोना से लोग भयभीत, भारत-नेपाल जाने-आने वालों की हो रही है स्केनिंग।

0
56
- Advertisement -

अबू फ़रहान छोटू
कोशी की आस@किशनगंज

भारत-नेपाल सीमावर्ती इलाके में कोरोना वायरस को लेकर लोग काफ़ी भयभीत हैं। वहीं प्रशासन सतर्कता बरतने के लिए लोगों को जागरूक करने में जुटी है। भारत-नेपाल आने-जाने वाले लोगों का स्केनिंग किये जाने की व्यवस्था की गई है।

- Advertisement -

इस दौरान किशनगंज प्रशिक्षु उप समाहर्ता नीरज कुमार ने फतेहपुर थाना क्षेत्र के भारत- नेपाल सीमा फतेहपुर में औचक निरीक्षण किया। जहाँ कोरोना वायरस जांच करने के लिए स्वास्थ्य कर्मी की टीम तैनात की गई है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रतिनियुक्त कर्मी से कोरोना वायरस जांच की स्थिति की जानकारी हासिल की गयी। इस मौके पर टेढ़ागाछ प्रखंड विकास पदाधिकारी गुलजारी कुमार पंडित भी मौजूद थे। उसके पश्चात उपसमाहर्ता नीरज कुमार ने चिकित्सा पदाधिकारी प्रमोद कुमार से भी मिले और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र टेढ़ागाछ का भी विधि व्यवस्था की जांच की।

उन्होंने बताया कि विगत 13 दिसंबर से लेकर अब तक नेपाल से आने जाने वाले 2088 लोगों की जांच की गयी है। ज्ञात हो कि टेढ़ागाछ प्रखंड क्षेत्र में भारत-नेपाल सीमा स्थित तीन जगहों पर स्वास्थ्य कर्मी की तैनाती की गयी है और हर आने-जाने वाले का स्वास्थ्य की जांच की जा रही है।

उपसमाहर्ता नीरज कुमार ने बताया कि कोरोना वायरस भारत सहित कई देशों में तेजी से फैल रहा है। इस बावत लोगों को सावधानी बरतने के लिए जागरूक किया जा रहा है। इस वायरस से सुरक्षित रहने व इससे बचाव के लिये कुछ सावधानी बरतने की जरूरत है। लोगों को बार-बार साबुन से हाथ धोने और मास्क का प्रयोग करने की सलाह दी जा रही है।उन्होंने लोगों से अपील की कि भीड़भाड़ वाले जगह में जाने से परहेज करें, सतर्कता से ही कोरोना वायरस को हराया जा सकता है।

- Advertisement -