किशनगंज: कोचाधामन प्रखंड के बलिया पंचायत पुल का शिलान्यास करते माननीय संसद व विधायक

0
70
- Advertisement -

किशनगंज: कोचाधामन प्रखंड अंतर्गत बलिया पंचायत के बहिकोल एवं बलिया के बीच बहिकोल में तथा भगाल पंचायत अंतर्गत कठामठा एवं शाहनगरा के बीच टप्पु में दो उच्च स्तरीय पुल का शिलान्यास कांग्रेस सांसद डॉ जावेद आजाद और जदयू विधायक मुजाहिद आलम ने संयुक्त रूप से नारियल फोड़ कर किया। पुल निर्माण कार्य प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना अंतर्गत 9 करोड़ की लागत से दोनों पुल का निर्माण किया जाएगा। शिलान्यास के साथ ही कार्य एजेंसी के द्वारा निर्माण कार्य भी प्रारंभ कर दिया गया है। टप्पू में शिलान्यास कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक मुजाहिद आलम ने कहा कि ग्रामीणों की बहुत पुरानी मांग थी जो आज पूरा हो गया। पुल बनने के बाद अब सड़क एवं अन्य विकास कार्य होने का मार्ग प्रशस्त हो गया।

- Advertisement -

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के लोगों को प्रखंड मुख्यालय जाने में काफी असुविधाओं का सामना करना पड़ता था खासकर बरसात के दिनों में। अब इस पथ पर पुल बन जाने से उक्त समस्याओं के समाधान के साथ-साथ इस क्षेत्र का चहुमुखी विकास भी संभव हो सकेगा। इस क्षेत्र के लोगों को 2017 से इस सड़क पर पुल बनने का इंतजार था। जो अब समाप्त होने को है। दोनों पुल के बन जाने से लाखों की आबादी को पुल से सीधे लाभ पहुंचेगा। उन्होंने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार बहुत तेजी से विकास का कार्य कर रही है। जनता ने हमें उम्मीद लेकर जिताया हैं तो हम उनके उम्मीदों पर हमेशा खड़े उतरने की कोशिश करेंगें।

सांसद डॉ जावेद आजाद ने शिलान्यास के मौके पर पुल निर्माण कंपनी के इंजीनियर से निर्माण कार्य के समय अवधि की जानकारी लेते हुए कहा कि समय से पूर्व पुल का निर्माण कराने का प्रयास किया जाय ताकि क्षेत्र के लोगों को जल्द से जल्द इसका लाभ मिलना शुरू हो जाय। साथ ही अपने संबोधन में लोगों से कहा कि अपने निगरानी में पुल का काम करवाएं अगर काम में किसी तरह की अनियमित्ता दिखे तो सूचित करें। वहीं बहूप्रतिक्षीत दोनों बड़े पुल के निर्माण कार्य का शिलान्यास होने से उपस्थित जनों में उमंग का माहौल देखा गया ।

शिलान्यास समारोह के मौके पर कांग्रेस सांसद डॉ जावेद आजाद, जदयू विधायक मुजाहिद आलम, प्रमुख प्रतिनिधि जवादुल हक,जिप मंजुर आलम,शहजाद कौसर,मुखिया प्रतिनिधि जकी अनवर,पूर्व मुखिया कारी मशकुर,मोहीबुर रहमान राजा, पंसस राजदेव,मकबीर,गुलाम महफुज,भुट्टो,मो रईस,इंतेखाब अजहर,अदनान आदिल,इंतेखाब नईमी,ईदी मुमताज,सद्दाम भारती सोन्था,गुलशाद राही,रागीब आलम,मो गामा,नियाज सरवर,सोहेल अख्तर सहित भाड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

- Advertisement -