रेतुआ नदी के कटाव से किशनगंज जिले के 09 घर नदी में विलीन

0
65
- Advertisement -

किशनगंज जिले के टेढागाछ प्रखंड के चिल्हनियाँ पंचायत अंतर्गत वार्ड नंबर 14 के संथाल टोला देवरी में रेतुआ नदी के कटाव के चपेट के कारण 09 घर नदी में कट कर विलीन हो गया। ज्ञात हो कि लगातार हुई बारिश के कारण विगत 12 जुलाई को रेतुआ नदी में आई भीषण बाढ़ से गाँव में बाढ़ का पानी घुस गया था और लोग चारों तरफ से घिर गए थे। जिसके कारण वे लोग भगवान से मदद की उम्मीद कर रहे हैं। गाँव में एक टूटी पुरानी नाव थी। जिससे उन्हें अपनी जान बचाने में मदद मिलने की उम्मीद थी, वे बाढ़ का पानी घटने से बच तो गए लेकिन उनका आशियाना नदी के कटाव में ढह गया।

- Advertisement -

रेतुआ नदी का जल स्तर घटने लगा और उनका घर नदी के कटाव के चपेट में आ गया। कटाव में 09 परिवारों का घर रेतुआ नदी में विलीन हो गया और वे बेघर हो गये। कटाव पीड़ितों में बबलू वासकी, धुमसी सोरेन, सोम हासदा, अर्जुन सोरेन, बीसू हेम्ब्रम,वजुना हेम्ब्रम, सोम हेम्ब्रम, मरंगमय सोरेन, चैंगा लाल सिंह हैं, जिनका पक्का मकान (इन्द्रा आवास) व अन्य कच्चा मकान रेतुआ नदी के कटाव में धाराशाही हो गया। पीड़ित परिवारों ने प्रशासन से सहायता की गुहार लगाई है।

अबू फ़रहान छोटू
कोशी की आस@किशनगंज

- Advertisement -