सुहिया हाट स्थित घाट पर पुल की मांग के लिए ग्रामीणों की गुहार

0
64
- Advertisement -

किशनगंज जिले के टेढागाछ प्रखंड के चिल्हनियां पंचायत अंतर्गत सुहिया हाट स्थित घाट पर पुल नहीं रहने से नदी पार करने में इन दिनों लोगों को काफी परेशानी हो रही है। यहां के आसपास के आधा दर्जन गांव की आबादी लगभग 4000 (चार हजार) से अधिक है। फिर भी यहाँ के लोग मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं।

सुहिया गाँव व हाट टोला रेतुवा नदी के कटाव की चपेट में है, लेकिन यहाँ की सुधि किसी ने नहीं ली है। स्थानीय ग्रामीणों ने शनिवार को कटाव स्थल को दिखाते हुए जिला प्रशासन से सुधि लेने की मांग की है। उन्होंने समय रहते तट बांध निर्माण के साथ साथ सुहिया घाट पर पुल निर्माण की मांग की है। बहादुरगंज विधानसभा क्षेत्र में सुहिया हाट का नाम चर्चित है। यहां चुनाव के समय में सभी दल के लोग अपना मंच लगाकर जनसभा भी करते हैं। यहां तक कि पूर्व मंत्री तस्लीमुद्दीन एवं सैय्यद शाहनवाज हुसैन ने भी स्थानीय लोगों को सुहिया घाट में पुल बनाने का आश्वासन दिया था, लेकिन सुहिया घाट पर अब तक पुल नहीं बना और ना ही किसी कद्दावर नेता को यहां के आवाम की चिंता है।

- Advertisement -

स्थानीय लोग आज भी आवागमन का बाट जोह रहे हैं। बरसात आते ही लोगों की परेशानी बढ़ जाती है। ज्ञात हो कि सरकार आवाम की खुशी के लिए हर तरह की सुविधा देना चाहती है। आवागमन से जुड़ी हर समस्या का समाधान सरकार करने में सक्षम है, लेकिन क्षेत्रीय विधायक, सांसद जाति धर्म एवं बाहुल्य वर्ग को ध्यान में रखकर लोगों की सुविधा के लिए प्रयास करते हैं। जिसके कारण हिंदू बाहुल्य क्षेत्र में सड़क, पुल एवं शुद्ध पेजल की समस्या आज भी देखी जा रही है। अब सुहिया घाट पर पुल की मांग को अमली जामा पहनाने के लिए किसी तारणहार की जरूरत है।

अबू फ़रहान छोटू
कोशी की आस@किशनगंज

- Advertisement -