बिहार में बढ़ते अपराध के खिलाफ भाकपा का रोषपूर्ण प्रदर्शन

0
100
- Advertisement -

मधेपुरा : चौसा प्रखंड के लौआलगान पंचायत के पूर्व सरपंच निवास चंद्र यादव उर्फ मुन्ना यादव की हत्या,गोपालगंज जिले के सरपंच में एक परिवार के तीन लोगों की हत्या सहित बिहार में बढ़ते अपराध के खिलाफ आज यहां भाकपा कार्यकर्ताओं ने प्रखंड कार्यालय चौसा पर रोष प्रदर्शन किया।

इस अवसर पर भाकपा कार्यकर्ताओं में सरकार व पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भाकपा राष्ट्रीय परिषद के सदस्य प्रमोद प्रभाकर ने कहा कि जहां एक और आज लोग कोरना महामारी से त्रस्त हैं तो वहीं बिहार में अपराधियों का तांडव जारी है। सत्ता के संरक्षण में अपराधियों का मनोबल बढ़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि गोपालगंज हत्याकांड में तो सत्तारूढ़ दल जदयू के विधायक संबंधित हैं जिसकी अभी तक गिरफ्तारी भी नहीं हुई है।

- Advertisement -

भाकपा नेता लौआलगान के पूर्व सरपंच मुन्ना यादव की हत्या पर रोष प्रकट करते हुए कहा कि चौसा प्रखंड में बराबर अपराधियों द्वारा हत्या को अंजाम दिया जाता है। क्षेत्र के किसान सदैव आतंक के साये में जीते हैं। उन्होंने पूर्व सरपंच के सभी हत्यारे को गिरफ्तार करने एवं उनके परिजन को 25 लाख मुआवजा देने की मांग की। उन्होंने कहा कि सरकार व प्रशासन अपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं अन्यथा गंभीर परिणाम होंगे। भाकपा जिला मंत्री विद्याधर मुखिया ने कहा कि बिहार में कोरोना के कारण कानून व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है और कोरोना के नाम पर पुलिस प्रशासन सिर्फ आम लोगों को परेशान करती है लेकिन अपराधियों के सामने नतमस्तक है। भाकपा जिला मंत्री ने विपक्षी नेताओं पर झूठा मुकदमा ठोकने पर रोष व्यक्त करते हुए कहा कि अपराधियों के बल पर सरकार नहीं चलेगी।

भाकपा के अंचल मंत्री बाबूलाल मंडल एवं वरीय नेता अंबिका मंडल ने कहा कि चौसा का इलाका मक्का खेती के लिए प्रसिद्ध है परंतु इस बार मक्का किसान औने पौने दाम में बेचने को मजबूर हैं। इन नेताओं ने कहा कि पंचायत और प्रखंड स्तर पर क्रय केंद्र लगाकर मक्का खरीद सुनिश्चित करने की मांग प्रशासन व सरकार से की है। भाकपा के पूर्व अंचल मंत्री अमरेंद्र सिंह,पूर्व मुखिया नीरज सिंह, किसान नेता मोहम्मद चांद, एवं नौजवान संघ के जिला सचिव राजीव कुमार यादव ने चौसा प्रखंड को अपराध मुक्त करने एवं मोरसोंडा में पुलिस की चौकी बनाने की मांग की।

प्रदर्शन में भाजपा नेता किशोर पौद्दार, उपेंद्र शर्मा,नकुल यादव, राजेंद्र शर्मा,रामानंद मेहता, उपेंद्र भगत, केदार मंडल, अशोक यादव ,झोरी मंडल, सूरत मंडल, रघुनाथ शर्मा, उपेंद्र राम, मोहम्मद हकीम,चिलमिल ऋषिदेव,मुशहरु शर्मा,नंदलाल शर्मा, बंदे लाल मंडल, राम दयाल सिंह, राम लखन सिंह, प्रमोद मंडल, सच्चिदानंद साहा, विजेंद्र मंडल जीवन मंडल, मोहन मंडल आदि बड़ी संख्या में भाग लिया। इन भाकपा नेताओं ने राशन कार्ड की अनिवार्यता खत्म कर सबको 50-50 किलो राशन एवं ₹10000 का गुजारा भत्ता देने की मांग की। (बाबूलाल मंडल
अंचल मंत्री, CPI चौसा द्वारा लिखा गया पत्र)।

राहुल यादव
कोशी की आस@मधेपुरा

- Advertisement -