मधेपुरा : फसल अवशेष खेतों में नहीं जलाने, एक विद्यालय की अनोखी पहल।

0
275
- Advertisement -

राहुल यादव
कोसी की आस@मधेपुरा

जिले में फसल अवशेष प्रबंधन और खेतों में पराली नहीं जलाने को लेकर मंगलवार को चौसा प्रखंड के अन्तर्गत प्राथमिक विद्यालय खोखन टोला में शिक्षिका माला कुमारी कंचन के नेतृत्व में शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के दौरान स्कूल के शिक्षकों द्वारा छात्र-छात्राओं को खेतों में फसल के अवशेषों को जलाने से पर्यावरण और खेतों को होने वाले नुकसान के प्रति जागरूक करने के साथ-साथ उन्हें पर्यावरण संरक्षण को लेकर शपथ दिलाई।

- Advertisement -

शिक्षक मो० शहनाज़ द्वारा ‘फसल अवशेष प्रबंधन’ की जानकारी दी गई। मो० शहनाज़ ने कहा कि ‘फसल अवशेष प्रबंधन’ कार्यक्रम के तहत बच्चों को खेतों में फसल अवशेष नहीं जलाने, उससे होने वाले पर्यावरणीय एवं स्वास्थ्य संबन्धी नुकसान तथा निदान के बारे में बताया तथा परिवारजनों एवं सगे सम्बन्धियों को भी इसके बारे में जानकारी देने एवं फसल अवशेष प्रबंधन के लिए प्रेरित करने हेतु शपथ दिलाया गया।

शिक्षक ने बच्चों को समझाते हुए बताया कि खेतों में पुआल, फसल अवशेष जलाने से मिट्टी में उपस्थित जैविक कार्बन, उर्वरा शक्ति, ह्यूमस, पोषक तत्व, खेत के लिए आवश्यक सूक्ष्मजीव आदि नष्ट हो जाते हैं जिससे उत्पादन पर प्रभाव तो पड़ता है। इस मौके पर शिक्षिका माला कुमारी कंचन, गायत्री कुमारी और छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

- Advertisement -