लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर पुलिस की मनमानी, पत्रकार को सिपाही ने पीटा, पत्रकार ने डीजीपी को लिखा पत्र

0
352
- Advertisement -

लोकतंत्र के चौथे स्तंभ के एक सिपाही नीतीश कुमार सिंह पिता निर्मल प्रसाद सिंह, ग्राम-नगरह, पोस्ट-नगरह, थाना-नवगछिया के स्थायी निवासी है। नीतीश आर्यभट्ट विश्वविद्यालय से पत्रकारिता के छात्र हैं, वर्तमान में राष्ट्रीय पत्रिका, गोसाइँ गाँव समाचार 【GS_NEWS】 सहित कई न्यूज़ चैनल और वेब पोर्टल कोशी की आस से जुड़े हुए हैं।

- Advertisement -

श्री नीतीश आज दिनांक 7 अप्रैल 2020 को दिन मंगलवार को नवगछिया अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा निर्गत पास को लेकर अपने घर जा रहे थे। नवगछिया थाना क्षेत्र के मेन रोड वीरेंद्र सिंह जदयू जिलाध्यक्ष के घर के पास बिहार पुलिस के जवान नाम संजीव कुमार सिंह द्वारा बेहरहमी से पिटाई कर दी गई। पीड़ित पत्रकार के शब्दों में, मैं रोता रहा, चिल्लाता रहा लेकिन उन्होंने मेरे साथ जमकर पिटाई किया। मौके पर नवगछिया पुलिस के कई जवान थे। शराब के नशे में होने के कारण पीटते रहें और उन्होंने यह भी कहा कि आज तुमको रंगबाज एवं दारूबाज से भेंट हुआ है और भी कई तरह की गालियां दी। मौके पर नवगछिया के कई पत्रकार पहुँचे एवं समझाने बुझाने का प्रयास किया। उक्त संबंध में जब पुलिस अधीक्षक से एक न्यूज एजेंसी के संवाददाता ने बात किया तो उन्होंने बताया कि ट्रेनी सिपाही को निलंबित कर दिया गया है और उसके खिलाफ विभागीय करवाई की जाएगी।

उक्त घटनाक्रम का कोशी की आस के मधेपुरा संवाददाता और नेशनल जर्नलिस्ट एसोसिएशन अनुमंडल उदाकिशुनगंज सयुंक्त सचिव राहुल यादव ने कड़ी निंदा करते हुए डीजीपी से सिपाही के प्रति कड़ी कानूनी करवाई की माँग की है। समस्त कोशी की आस परिवार इस घटना की घोर निंदा करती है और पुलिस के अधिकारियों से सिपाही के विरुद्ध कठोर करवाई की माँग करते हुए उन नासमझ सिपाही को समझाया जाय कि आपको कैसे पेश आना चाहिए और लॉक डाउन के दौरान किसको अधिकृत किया गया है और किसको नहीं। साथ ही आपको लाठी रक्षा के लिए दिया गया न की हमला के लिए.

राहुल यादव
कोशी की आस@मधेपुरा

- Advertisement -