मधेपुरा : मानव श्रृंखला का बहिष्कार करेगा, जीविका कैडर संघ।

0
362
- Advertisement -

राहुल यादव
कोसी की आस@मधेपुरा।

सरकार के वादाखिलाफी, जीविका कैडरों व दीदियों के शोषण एवं बिहार प्रदेश जीविका कैडर संघ के 10 सूत्री मांगों को सरकार द्वारा नहीं माने जाने के विरोध में संघ ने 19 जनवरी 2020 को आयोजित मानव श्रृंखला का बहिष्कार करने का फैसला किया है।

- Advertisement -

सरकार जनसरोकार के मुद्दे के आड़ में अपना शक्ति प्रदर्शन और वोट बैंक की व्यवस्था में लगी है, जो निंदनीय है। साथ ही मानव श्रृंखला में आम जनमानस को उलझाकर बेरोजगारी, अशिक्षा, पलायन और बढ़ते अपराध जैसे मुद्दे पर सरकार अपनी ख़ामियों को छुपाना चाहती है। जिसे अब सूबे की जनता समझ चुकी है। जिलाध्यक्ष कविता कुमारी ने कहा कि महिला सशक्तिकरण की आड़ में जीविका की करोड़ो गरीब महिलाओं के साथ अन्याय किया जा रहा। एक तरफ मानव श्रृंखला के नाम पर करोड़ों फुके जा रहे हैं।

सभा को संबोधित करते हुए प्रदेश महासचिव विवेक कुमार ने कहा कि गरीबी उन्मूलन की परियोजना में गरीबों को 1000 -2000 में काम करने को बाध्य किया जा रहा है। परियोजना के पैसे का मुख्यमंत्री कार्यक्रम के नाम पर लूट मचाई जा रही है। वही दूसरी ओर जीविका के कैडरों को काम के बदले भीख मांगने पर मजबूर किया जा रहा है। इन्हीं सब मुद्दों को लेकर बिहार प्रदेश जीविका कैडर संघ मानव श्रृंखला का बहिष्कार करती है।

चेतावनी देते हुए संघ के सदस्यों का कहना था कि यही नही जब तक सरकार संघ की मांगों को नहीं मानती है तब तक संघ मुख्यमंत्री के आने वाले हरेक कार्यक्रम का विरोध करती रहेंगी। जिला कोषाध्यक्ष वशिष्ठ कुमार मिश्रा, जिला महासचिव सुमन कुमार, जिला सचिव त्रिलोकीनाथ राय, सभी प्रखंडों के प्रखंड अध्यक्षों ने भी अपनी-अपनी बातें रखीं। इस बैठक में मिथलेश कुमार, अफसाना खातुन, निकोलस रेडि, रामसुंदर कुमार, राजेश कुमार, प्रशांत, रश्मि, खुशबू, आरती, पूनम, बेबी, नूतन सहित सैकड़ों जीविका दीदी और जीविका कैडर उपस्थित थे।

- Advertisement -