मधेपुरा: शराब बंदी के बाद भी प्रखंड क्षेत्र में खुलेआम हो रही शराब बिक्री, प्रशासन अनजान

0
315
- Advertisement -

शराब बंदी के बाद भी प्रखंड क्षेत्र में खुलेआम हो रही शराब बिक्री, प्रशासन अनजान

शराब बंदी के बाद अनुमंडल क्षेत्र शराब की बिक्री थमने का नाम नहीं ले रही है। शासन द्वारा शराब बिक्री को समाप्त करने का यह प्रयास विफल होते नजर आ रहा है। ना तो क्षेत्र में शराब की बिक्री पर रोक लगा पाई है और ना शराब पीने वालों पर। रोजाना नए-नए शराब कारोबारी पैदा होते जा रहे है और धड़ल्ले से मुख्यालय व आसपास के क्षेत्रों में जगह-जगह शराब की बिक्री रफ्तार पकड़े हुए है। पुलिस विभाग की तरफ से किसी भी प्रकार की कोई भी ठोस कार्यवाही नजर नहीं आ रही है।अनुमंडल मुख्यालय क्षेत्र सहित आसपास के क्षेत्र में शराब कारोबारी खासकर युवा वर्ग द्वारा खुलेआम शराब बेची जा रही हैं, जिनसे लोग मोलभाव करके खरीदते हैं।

- Advertisement -

शराब की लत अभी तक कुछ नामचीन लोगों को लगी हुई हैं जो कारोबारी से खरीदने पर मजबुर हैं। इस तरह से शराबबंदी होने से तस्करों की पौ बारह हो रही है।क्या शासन शराब कारोबारी से मुनाफा लेकर शराब बेचने को खुली छूट दे रखी है या फिर पुलिस की सांठगांठ से इस अवैध कारोबार को खुला संरक्षण दे रखा है? अधिकांश क्षेत्र गली, मोहल्ले, होटलों, ढाबो में खुले आम शराब बेचने का सिलसिला लगातार जारी है।

बिहार में शराबबंदी के बाद कई कारोबारी जेल जा चुकें हैं। कई कारोबारी फरार चल रहे हैं। बावजूद भी इन दिनों खुलेआम धड़ल्ले से देशी व विदेशी शराब बिक रही हैं। एनएच-106 एवं एसएच-91 एवं 58 के किनारे बने लाइन होटलों में धड़ल्ले से शराब की होम डिलेवरी कर बिक्री की जा रही है। तो वहीं कई मुहल्ले में एक निश्चित जगह तय कर शराब की बिक्री की जा रही है। खासकर युवा वर्ग देशी व विदेशी शराब की बिक्री करने एवं सप्लाई करने में हिचकते नहीं हैं। शराबी बेहिचक चौक-चौराहों पर आकर शराब खरीद करते है।ताजा मामला प्रखंड मुख्यालय का है जहां एक युवक खुलेआम विदेशी शराब बेच रहा है। युवा कारोबारी ग्राहक से शराब की मोल-भाव कर रहा है। मामला पट जाने पर युवक को शराब की एक बोतल देते नजर आता है जो युवक की बोतल लेकर वहां से निकल जाता है। वहीं कारोबारी युवक के पास एक और बोतल नजर आता जो अपने पास रख किसी को होम डिलेवरी देने हेतू निकल जाता है।

एसडीपीओ चन्देश्वरी प्रसाद यादव ने कहा कि उदाकिशुनगंज थाना क्षेत्र में इस तरह का कारोबार हो रहा है तो थानाध्यक्ष से स्पष्टीकरण मांगा जाएगा। साथ हीं जल्द हीं क्षेत्र में सघन छापेमारी अभियान चलाया जाएगा।

राहुल यादव
कोशी की आस@उदाकिशुनगंज, मधेपुरा

- Advertisement -