राशन देने में डीलर कर रहे हैं मनमानी, भ्रष्टाचार मामले में डीलर ने पदाधिकारी और सरकार को भी बताया गलत

0
52
- Advertisement -

मधेपुरा जिले के उदाकिशुनगंज प्रखंड क्षेत्र में कोरोना महामारी के कारण हुए लॉक डाउन में गरीबों के बीच राशन को उपलब्ध करवाने को लेकर राज्य से लेकर जिला प्रशासन तक प्रयासरत है। वहीं जनवितरण प्रणाली के दुकानदार अपनी पुरानी आदतों को छोड़ने को तैयार नजर नहीं आ रहे हैं। वे लोग गरीबों के अनुमोदित राशन को सीधे तौर पर देने में आनाकानी करते रहते हैं।

केंद्र और राज्य सरकार सकंट के घड़ी में गरीब राशन के अभाव में भूखे नहीं रहे इसके लिए किसी प्रकार की कोताही नहीं बरत रही हैं। पर डीलर राशन गटक करने में लगे हुए हैं। आवंटन के बावजूद कई जगहों से अनाज का वितरण नहीं हो रहा है। बता दें की एक सप्ताह के अंदर प्रखंड में पांच से अधिक डीलरों पर वितरण एवं कालाबाजारी में संलिप्त होने का आरोप लगा है। लेकिन अभी तक विभाग द्वारा इस ओर कोई ठोस कार्यवाही नहीं की गई है।

- Advertisement -

हाल ही में रामपुर खोड़ा एवं मझरपट्टी एवं मधुबन पंचायत का मामला शांत भी नहीं हुआ था कि रहटा फनहन पंचायत के वार्ड 7 के डीलर बेचन ऋषिदेव पर ग्रामीणों ने कम अनाज देकर अधिक पैसे कि वसूली का आरोप लगाते हुए डीलर से बहस कर लिया। इस संबंध में एक वीडियो प्राप्त हुआ है जिसमें यह स्पष्ट रूप से देखा जा रहा है कि ग्रामीण जब उचित अनाज देने के लिए डीलर से बहस कर रहे हैं तो डीलर द्वारा खुलेआम पदाधिकारी और प्रशासन को गाली दिया जा रहा है और बताया जा रहा है कि पदाधिकारी को मोटा कमीशन देंगे तो क्या आप लोगों को जमीन बेचकर उचित राशन देंगे।

प्रीतम कुमार
कोशी की आस@उदाकिशुनगंज,मधेपुरा

- Advertisement -