शहीद दिवस के रूप में मनाया गया, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्य तिथि

0
62
- Advertisement -

मधेपुरा जिले के चौसा प्रखंड के अन्तर्गत प्राथमिक विद्यालय खोखन टोला में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्य तिथि को शहीद दिवस के रूप में मनाया गया। इस अवसर पर प्रधानाध्यापक संजय कुमार पासवान द्वारा महात्मा गॉंधी के चित्र पर पुष्पांजली अर्पित की गई।

श्री कुमार ने कहा शहीद दिवस का उद्देश्य उन स्वतंत्रता सेनानियों के प्रति सम्मान व्यक्त करना, जिन्होंने भारत की स्वतंत्रता के लिए अपना जीवन न्योछावर कर दिया है। महात्मा गांधी भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के इतिहास में सबसे प्रसिद्ध नाम है। महात्मा गांधी जिन्हें ‘राष्ट्र के पिता’ के नाम से भी पुकारा जाता है। 1948 में 30 जनवरी को नाथूराम गोडसे द्वारा महात्मा गांधी की हत्या कर दी गई थी।

- Advertisement -

उन्होंने कहा कि ऐसे में ‘बापू’ के सम्मान के लिए, हर साल 30 जनवरी को शहीद दिवस मनाया जाता है। गॉंधी जी ने अहिंसात्मक आंदोलन चलाकर देश को आजाद कराया। आज वर्तमान में सभी देशवासियों को हिंसात्मक प्रवृत्ति को त्यागकर गांधी जी के बताए हुए मार्ग पर चलने की आवश्यकता है। मौके पर शिक्षिका माला कुमारी कंचन, गायत्री कुमारी एवं शिक्षक मो शहनवाज उपस्थित थे।

राहुल यादव
कोशी की आस@मधेपुरा

- Advertisement -