शिक्षक बहाली मोर्चा, मधेपुरा द्वारा शिक्षा मंत्री के बयान को गैरजिम्मेदाराना बताया गया

0
123
- Advertisement -

मधेपुरा: बिहार सरकार के शिक्षा मंत्री से पत्रकारों के द्वारा पुछे गये सवालों पर शिक्षा मंत्री ने जबाब देते हुए कहा कि न्यायालय का आदेश आते ही बहाली प्रक्रिया को शुरु कर दिये जाएंगे। इसका कडा प्रतिरोध करते हुए शिक्षक बहाली मोर्चा मधेपुरा के जिला अध्यक्ष रणधीर कुमार ने कहा है कि यह बयान शिक्षा मंत्री का पुरी तरह से गैर जिम्मेदाराना है। वास्तविकता यह है की सरकार और शिक्षा मंत्री इस दिशा में कभी कोई दिलचस्पी दिखाई ही नहीं उसी का परिणाम है विगत कई बर्षों से शिक्षक अभ्यर्थी मानसिक आर्थिक सामाजिक तनाव को झेल रहे हैं। आज शिक्षा मंत्री के इस बयान के खिलाफ शिक्षक अभ्यर्थियों के द्वारा twitter पर हैसटग #शिक्षामंत्री_गैरजिम्मेदार_है भर दिन टाप टेन में ट्रेंड करते रहा। वर्तमान शिक्षा मंत्री माननीय विजय चौधरी जी सिर्फ सवालों के गोल गोल व मधुर स्वर में मीठा जबान देना जानते हैं।

शिक्षा विभाग में ,सूबे के स्कूलों में टीचर की घोर कमी को दूर करवाइए,
टीचर बहाली 94 हजार , 6th चरण का 30 हजार हाई स्कूल,एवं 37 हजार हाई स्कूल एवं प्लस टू की बहाली अबिलम्ब पूरा करवाइये।
STET 2019 की परीक्षा आपने ऑनलाइन मोड में ली ,व 12 मार्च को तीन विषय को छोड़कर रिजल्ट जारी किए हैं,3 विषयों का रिजल्ट देकर STET 2019 की बहाली में बिना कोई अड़चन लगाए बहाली ऑनलाइन व सेंटरलाइज तरीके से पूर्ण करावें। इस मुहिम को सफल बनाने में सहयोग दे रहे शिक्षक अभ्यर्थी –आनंद भूषण, सारंग तनय, ई.प्रिती सागर, रामाशीष कुमार, रंजन यादव ,सुधीर कुमार, ललन कुमार, स्मिता कुमारी, कंचन माला,निक्की कुमारी,हरिश्चन्द्र कुमार, दिलीप कुमार दिल,विनोद कुमार, अभिनंदन कुमार, ब्रजेश रंजन,रतन कुमार, आभाष कुमार, शिवानी प्रिया,पंकज पथिक,मुन्नाकमार,अनिल कुमार, अजित कुमार ,बबूल कुमार, पिंटु कुमार, तेजनारायणकुमार,शलैन्द्र कुमार,आलोक कुमार, गौतम कुमार, शंकर कुमार ,शबनम कुमारी, भारती कुमारी, सोनी राज,रंजीत कुमार, प्रमोद कुमार इत्यादि का भरपूर सहयोग मिला सभी शिक्षक अभ्यर्थियों ने एक स्वर में कहा यदि सरकार हम लोगों की बहाली समय सीमा के अंदर जल्दी पूरी नहीं करती है तो हम लोग सड़कों पर उतर कर आंदोलन के लिए बाध्य हो जाएंगे।

- Advertisement -

राहुल यादव
कोशी की आस@चौसा, मधेपुरा

- Advertisement -