लालू और नीतीश ने 30 सालों में बिहार को रसातल में पहुंचाया- सुपर गठबंधन

0
95
- Advertisement -

पटना : असली देसी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन यादव की अगुवाई में आज सुपर गठबंधन की घोषणा की गई। गांधी मैदान स्थित आईएमए हॉल में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में सुपर गठबंधन में शामिल घटक दलों के नेताओं की मौजूदगी में ललन यादव ने इसकी घोषणा की। इस सुपर गठबंधन में फिलहाल 10 से अधिक राजनीतिक दल शामिल हैं।

वहीं पत्रकारों से बातचीत करते हुए ललन यादव ने एनडीए और महागठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि सामाजिक न्याय के शिल्पकार लालू प्रसाद की आज क्या दुर्गति है, यह जगजाहिर है। न्याय के साथ विकास और तथाकथित सुशासन का राग अलापने वाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 15 वर्षों तक जनता की अनदेखी कर अपनी कुर्सी बचाने में लगे रहें, यही कारण है कि आज हर वर्ग के लोगों में नीतीश सरकार के खिलाफ आक्रोश है। जन आक्रोश से डरकर इस बार एक्चुअल रैली की बजाय नीतीश कुमार वर्चुअल रैली की पुरजोर तैयारी में जुटे हैं, जिसे जनता ने पहले ही नकार दिया है।

- Advertisement -

सवालिया लहजे में उन्होंने कहा कि सत्ता से बेदखल होने की छटपटाहट में अब सुशासन राज्य में चुनावी लाभ पाने के लिए “हत्या कराओ, नौकरी पाओ” का नारा गढ़ा जाने लगा है जो काफी दुर्भाग्यपूर्ण है। जनता ने मन बना लिया और अब नीतीश कुमार कुछ भी कर ले अपनी कुर्सी बचाने में नाकाम साबित होंगे जनता का विश्वास हासिल कर अब एक बेहतर विकल्प बनेगा सुपर गठबंधन।

गौरतलब है कि रवि यादव ने अपने तमाम सहयोगी दलों के साथ सुपर गठबंधन की घोषणा कर बिहार वासियों को एनडीए और महागठबंधन से अलग एक नया विकल्प दिया है। उन्होंने कहा है कि यह सुपर गठबंधन जनता की अपेक्षाओं के अनुरूप उनकी हर जरूरतों को ध्यान में रखते हुए सर्वजन कल्याण के लिए काम करेगा। बिहार को प्रगति के पथ पर पहुंचाने एवं खुशहाल प्रदेश बनाने के लिए तमाम सहयोगी दल और दृढ़ संकल्पित हैं।

सुपर गठबंधन के घटक दलों की सूची

1) असली देशी पार्टी
2) अखंड भारत जनता पार्टी
3) आम जनता दल
4) क्रांतिकारी विकास दल
5) आदर्श जन कल्याण
6) भारतीय मानवता पार्टी
7) भारतीय जनतंत्र इक जनता दल
8) लोकतांत्रिक समाजवादी पार्टी
9) युवा विहार सेना
10) शोषित समाज दल
11) राष्ट्रीय जनशक्ति पार्टी
12) राष्ट्रवादी विकास पार्टी
13) टाइगर पार्टी

वहीं राष्ट्रीय जनतांत्रिक जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष अब्दुल सुभान ने पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि लालू राबड़ी और नीतीश कुमार के विगत 3 दशकों के शासनकाल में बिहार हर क्षेत्र में पिछड़ेपन का शिकार हुआ है। उन्होंने कहा कि सामाजिक न्याय और न्याय के साथ विकास का नारा देने वाले इन नेताओं के राज में बिहार में गरीबी भुखमरी बेरोजगारी किसानों की आर्थिक तंगहाली निरंतर बढ़ती रही है। रोजगार के अभाव में बिहार का युवा पलायन करने को मजबूर हुआ है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए अखंड भारत जनता पार्टी के नेता सुमित रंजन सिन्हा ने कहा कि आंकड़ों की बाजीगरी और कागजों पर विकास रूपी कागजी घोड़ा दौड़ा कर जनता को गुमराह करने वाली नीतीश सरकार हर मोर्चे पर नाकाम रही है। उन्होंने कहा कि भ्रष्ट तंत्र के कारण पूरे बिहार में स्वास्थ्य और शिक्षा अपने बदहाली पर आंसू बहाने को विवश है।

युवा बिहार सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजकुमार पासवान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर युवाओं एवं किसानों को ठगने का आरोप लगाया है। युवाओं और किसानों की समस्या साझा करते हुए उन्होंने कहा कि संपूर्ण बिहार में युवाओं के साथ-साथ कृषि और व्यवसाय से जुड़े लोगों का बुरा हाल है। उन्होंने कहा कि विकास की झूठी ढोल पीटने वाले नीतीश कुमार 15 वर्षों में एक सुई का कारखाना भी स्थापित नहीं कर सकें।

आदर्श जन कल्याण दल के नेता नीतीश कुमार की माने तो नीतीश कुमार की कथनी और करनी में फर्क के कारण संपूर्ण बिहार वासियों में आक्रोश व्याप्त है। उन्होंने कहा कि बिहार के लोगों को एक नए विकल्प की तलाश है क्योंकि जनता परिवर्तन चाहती है। सुपर गठबंधन जनता की उम्मीदों को पूरा करने के लिए दृढ़ संकल्पित है।

विवेक कुमार यादव
कोशी की आस@पटना

- Advertisement -