अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने मनाई गांधी एवं शास्त्री जयंती

0
159
- Advertisement -

बनमनखी (पूर्णिया): अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा अनुमंडल मुख्यालय स्थित एससी एसटी कल्याण छात्रावास सुमरित उच्च विद्यालय परिसर में महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री जयंती मनाई गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता नगर मंत्री साजन कुमार ने कहा कि 2 अक्टूबर का दिन बेहद खास है क्योंकि इस दिन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जन्मदिन के साथ ही देश के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्र की जयंती भी 2 अक्टूबर को मनाई जाती है।

आगे बताया कि वलाल बहादुर शास्त्री के प्रभावशाली व्यक्तित्व का अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि विदेशों में भी उनके विचारों और निडरता की तारीफ की जाती थी।
नगर सह मंत्री सिकेन्द्र चौधरी ने कहा कि लाल बहादुर शास्त्री ने अपना पूरा जीवन गरीबों की सेवा में समर्पित कर दिया था। शास्त्री का जन्म उत्तर प्रदेश के मुगलसराय में दो अक्टूबर, 1904 को शारदा प्रसाद और रामदुलारी देवी के घर हुआ था। देश की आजादी में लाल बहादुर शास्त्री का खास योगदान है। साल 1920 में शास्त्री ने भारत की आजादी की लड़ाई में शामिल हो गए थे। स्वाधीनता संग्राम के जिन आंदोलनों में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही, उनमें 1921 का असहयोग आंदोलन, 1930 का दांडी मार्च और 1942 का भारत छोड़ो आंदोलन उल्लेखनीय हैं। शास्त्री ने ही देश को ‘जय जवान, जय किसान’ का नारा दिया था।

- Advertisement -

नगर सह मंत्री मिथिलेश कुमार ने कहा कि लोगों को सच्चा लोकतंत्र या स्वराज कभी भी असत्य और हिंसा से प्राप्त नहीं हो सकता है। कानून का सम्मान किया जाना चाहिए ताकि हमारे लोकतंत्र की बुनियादी संरचना मजबूत बनें।
इस मौके पर प्रदेश कार्यकारिणी परिषद सदस्य मंगल कुमार, काॅलेज सह मंत्री विशाल कुमार, कार्यालय मंत्री जीवछ कुमार सहित दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद थे।

प्रफुल्ल कुमार सिंह
कोशी की आस@पूर्णियाँ

- Advertisement -