पुणियाँ : नाबालिक बालक आनस के अपहरण और हत्याकांड का उदभेदन

0
258
- Advertisement -

प्रफुल्ल कुमार सिंह / विक्रम सिंह

कोसी की आस@ पूर्णियाँ

- Advertisement -

विगत दिनांक-25 .08 .2019 की रात्रि में एक नाबालिक बालक नाम-आनस उम्र-करीब 04 वर्ष के अपहरण की घटना घटित हुई थी। बालक का शव घटना के चार-पॉँच दिन पश्चात् सा०- बंदरख में एक पानी से भरे गढ़े में पाया गया। घटना की संवेदनशीलता को देखते हुये पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा इस घटना के उदभेदन हेतु अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, बायसी एवं थानाध्यक्ष डगरुआ पु०अ०नि० मधुरेन्द्र किशोर तथा अनुसंधानकर्ता पु०अ० नि० कृष्णनंदन कुमार सिंह को विशेष रूप से इस कांड का उदभेदन करने हेतु निर्देशित किया गया था। अग्रतर अनुसंधानोपरान्त वैज्ञानिक एवं तकनीकी अनुसंधान के क्रम में यह पाया गया कि इस घटना के वादी मृतक के पिता मो० मुशब्बीर पिता- स्व० शाकुर, साकिन- बंदरख, थाना डगरुआ, जिला- पूर्णियाँ के द्वारा ही सुनियोजित षडयंत्र के तहत अपने पुत्र अनश की हत्या कर दी गई है।

घटना का कारण है कि वादी / अभियुक्त मृतक का पिता- मो० मुशब्बीर ने गाँव के ही लड़की / प्रेमिका काजल कुमारी (काल्पनिक नाम) के साथ विगत डेढ़ वर्ष से प्रेम प्रसंग चल रहा था तथा प्रेमिका से शादी के लिए दोनों राजी हुए, इसपर वादी के भाईयो एवं उनकी पत्नी के द्वारा विरोध किया जा रहा था, इस पर आरोपी हत्यारा द्वारा सोचा गया कि भविष्य में बच्चे द्वारा वादी के सम्पति से हक़/हिस्सा न माँगा जाय तथा बच्चे की हत्या के आरोप में भाईयो का फसा दिया जाय, यह सोचकर ही उसके द्वारा रात्रि में अपने ही पुत्र की गला दबाकर हत्या कर दी गई।

उल्लेखित है कि वादी द्वारा बार-बार अपने भाईयो एवं सगे संबंधियों को केश में फ़साने एवं नाम दर्ज करने हेतु, पुलिस पर दबाब बनाया जा रहा था तथा दबाब बनाने के लिए इनके द्वारा थाना परिसर में भी धरना प्रदर्शन एवं थानाक्षेत्र के विभिन्न जगहों पर पोस्टर भी चिपकाया गया। कांड की जानकारी वहाँ के स्थानीय मुखिया शमसाद एवं स्थानीय नेता गुलाम सरवर उर्फ विधायक जी को थी परन्तु इन लोगो द्वारा भी पुलिस को भ्रमीत किया जा रहा था एवं अनावश्यक रूप से दबाव दिया जा रहा था, जिसके कारण स्थानीय मुखिया शमसाद एवं स्थानीय नेता गुलाम सरवर उर्फ विधायक जी पर साक्ष्य छुपाने का आरोपी बने है।

- Advertisement -