535 करोड़ की लागत से बनने वाले चार हाई लेवल ब्रिज, लोक वित्त समिति पास, खगड़िया, सहरसा और सुपौल की लाखों की आबादी होगी लाभान्वित

0
150
- Advertisement -

खगड़िया / सहरसा – कोसी क्षेत्र के तीन जिले (सहरसा, सुपौल और खगड़िया) की लाखों की आबादी की सुगम आवाजाही के लिए राज्य सरकार की लोक वित्त समिति से 535 करोड़ की महत्त्वकांक्षी योजना को स्वीकृति मिल गई है। कोसी क्षेत्र की एक और प्रस्तावित महत्वपूर्ण सड़क मानसी-हरदी चौधारा के पहले फेज में धनछर से बदला घाट बांध तक सड़क, चार हाई लेवल ब्रिज और एक फ्लाईओवर का निर्माण किया जाएगा।

लोक वित्त समिति से हरी झंडी मिलने के बाद स्थानीय सांसद दिनेश चंद्र यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रति आभार जताया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रयास से 535 करोड़ के पहले फेज की इस परियोजना को सहमति मिलने के बाद धनछर और बदला घाट के बीच चार नदियों पर हाई लेवल ब्रिज के साथ बदला बांध के समीप एक फ्लाईओवर और सड़क निर्माण का रास्ता साफ हो गया है।

- Advertisement -

तीन जिलों खगड़िया, सहरसा और सुपौल को एक साथ जोड़ने वाली कोसी क्षेत्र की इस महत्वपूर्ण परियोजना के निर्माण में धनछर से बदला बांध तक बड़ी बाधा चार नदियों पर बड़े पुल के निर्माण को लेकर थी, जिसे राज्य सरकार की लोक वित्त समिति ने तैयार डीपीआर के अध्ययन के बाद सहमति की मुहर लगा दी है। प्रस्ताव स्वीकृत होने के बाद अब इसके लिए टेंडर की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

एडीबी बैंक से फाइनांस पर मिली सहमति – क्षेत्रीय सांसद

सांसद ने कहा कि लोक वित्त समिति ने चारों नदियों पर हाई लेवल सड़क पुल बनाने की अपनी सहमति दी है बल्कि बदला घाट समीप एक फ्लाईओवर का भी निर्माण किया जाएगा। सांसद दिनेश चन्द्र यादव ने कहा कि लोक समिति ने इस प्रथम फेज की परियोजना को पूरा करने के लिए एडीबी बैंक से फाइनांस पर भी सहमति दे दी है।

सुपौल – सहरसा से खगड़िया की दूरी हो जाएगी कम

मालूम हो कि मानसी से हरदी चौधारा सड़क निर्माण परियोजना में सबसे दुरूह कार्य बदलाघाट बांध से धनछर तक सड़क पुल निर्माण ही है। कोसी क्षेत्र में इस नये मार्ग के बन जाने से सहरसा और खगड़िया के बीच की दूरी कम हो जाएगी। यह मार्ग खगड़िया, सहरसा और सुपौल के लाखों आबादी के लिए एक अलग लाइफ लाइन साबित होगी।

अभी डूमरी पुल महेशखूट होकर जाने की विवशता

दोनों के बीच सदियों से एकमात्र रेल लाइन ही आवागमन का साधन है। सड़क मार्ग से मानसी जाने के लिए आज भी लोगों को डुमरी पुल महेशखूंट होकर जाना मजबूरी है। चार नदियां कोसी नदी, डेड कोसी, कात्याने नदी और बागमती नदी पर सड़क पुल बनाए बिना इन जिलों को जोड़ने वाली यह परियोजना पूरी नहीं होती। खगड़िया के मानसी से सुपौल के हरदी चौधारा तक 75 किमी सड़क का किया निर्माण किया जाएगा। सड़क निर्माण के बाद सुपौल, सहरसा के लोगों को खगड़िया आना-जाना आसान हो जाएगा।

बोले-सांसद बदला घाट बांध तक सड़क व पुल निर्माण थी बाधा

सांसद ने सीएम के प्रति जताया आभार, कहा- यह कोसीवासियों की दूसरी लाइफ लाइन

सांसद दिनेश चन्द्र यादव ने इसके लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रति आभार जताते हुए कहा कि आज उनके ही प्रयास से कोसी क्षेत्र के लाखों लोगों के लिए दूसरी बड़ी लाइफ लाइन प्रोजेक्ट के निर्माण का रास्ता साफ हुआ है। सांसद ने बताया कि खगड़िया जिला के मानसी से सुपौल जिला के हरदी चौधारा तक 75 कि.मी. सड़क निर्माण में बड़ी बाधा सलखुआ के धनछर से मानसी के बदला घाट बांध तक सड़क और पुल का निर्माण था।

रितेश : हन्नी
कोशी की आस@सहरसा

- Advertisement -