भाजपा पूर्व सैनिक प्रकोष्ठ बिहार की ओर से देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं

0
226
- Advertisement -

सहरसा : स्वतंत्रता दिवस के पावन पर्व पर सहरसा जिला के पूर्व सैनिकों, वीरांगनाओं एवं उनके परिजनों मे भी हर्षोल्लास का माहौल है। जानकारी देते हुए भाजपा पूर्व सैनिक प्रकोष्ठ के प्रमंडल प्रभारी गोपाल मिश्र ने कहा कि हमारा क्षेत्र इस समय अनेक आपदाओं जैसे बाढ, कोरोना एवं सीमा पर युद्ध जैसे हालातों का एकसाथ सामना कर रहा है।

प्रदेश संयोजक पूर्व सैनिक प्रकोष्ठ बिहार आशुतोष कुमार शाही के नेतृत्व मे हमारे पूर्व सैनिक कोरोना के मापदंड का पालन करते हुए छोटे-छोटे समूह मे जिला से पंचायत स्तर तक इस पर्व को मनायेंगे। युवाओं से देशभक्ति और राष्ट्रवाद पर संवाद कर सदियों का संघर्ष एवं देशवासियों द्वारा दी गई कुर्बानी से प्राप्त इस आजादी की महत्ता को समझने की जरूरत है। देश तो आजाद हो गया मगर हमारे सेना आज भी अघोषित युद्ध लङते हुए अपनी कुर्बानी दे रही है। हाल ही में गलवान घाटी के शहीद कुंदन यादव, शहीद रमण कुमार झा, शहीद सुमन एवं कार्तिक झा को याद कर क्षेत्र के अधिक से अधिक संख्या मे युवाओं को देश सेवा के लिए सेना मे ज्वाइन करने का आह्वान किया। सेना को पराक्रमी और ताकतवर बनाने के लिये यशस्वी प्रधानमंत्री जी का आभार व्यक्त किया।

- Advertisement -

भाजपा जिला संयोजक सहरसा प्रवीण झा ने भी सैनिको को एकजुट होकर बाढ और कोरोना जैसी महामारी मे समाज के लोगो को अपने स्तर से और सरकारी योजनाओं के माध्यम से मदद कर समाजिक दायित्व निभाने का आह्वान किया। बिहार राज्य पूर्व सैनिक संघ सहरसा के जिलाध्यक्ष पंकज सेना मेडिकल कोर से सुबेदार पद से सेवानिवृत्ती ली है। कोरोना पर सैनिको को ज्ञानवर्धक जानकारी दी। मास्क एवं दो गज की दूरी का पालन करने एवं जागरूकता फैलाने पर बल दिया। अंत मे सभी ने शहीद परिवार को हाल ही मे दिये गये सहायता के लिये देश मे मोदी और राज्य की नीतीश सरकार का भी आभार प्रकट किया। साथ ही अनुरोध किया है कोशी प्रमंडल के एक भी जिला मे सैनिक कल्याण विभाग, ईसीएचएस और कैंटीन जैसी मूलभूत सुविधा शीघ्र बहाल हो।

मौके पर सैनिक राजेन्द्र यादव, अमित मिश्रा, अनमोल राय, चंद्रकांत पंडित, देव नारायण जयसवाल, अमोद कुमार दास, ललन सिंह, मुकेश कुमार झा, रवींद्र यादव, संजीव झा बाँकसर, घाना प्रसाद यादव सहित अन्य लोगों ने भाग लेकर अपना विचार व्यक्त किया।

रितेश : हन्नी
कोशी की आस@सहरसा

 

- Advertisement -