कोरोना काल में रवि कुमार बने रोल मॉडल – नियमित टीकाकरण और जागरूकता की जला रहे हैं अलख

0
67
- Advertisement -

सहरसा : कोरोना के संक्रमण काल मे कुरियर रवि कुमार अपने काम से लोगों के लिए रोल मॉडल बन गए हैं। बात टीकाकरण की हो या फिर संक्रमण से बचाव की, हर मुद्दे पर वह लोगों को जागरूक करने का कम कर रहे हैं।

चर्चा में हैं रवि :

- Advertisement -

हर तरफ जिले के सौरबाजार के कुरियर रवि कुमार के योगदान की चर्चा है। वह न सिर्फ अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभा रहे हैं। लोगों को रवि का काम बहुत भा रहा है। अपने प्रखंड में अलग पहचान बनाने वाले रवि का कहना है कि यह मुकाम मेहनत और ईमानदारी से मिला है। यही कारण है कि लोग रवि की मेहनत और लगन की मिसाल देते हैं।

कर्मठता एवं सच्ची लगन से बनी पहचान:

कुरियर रवि कुमार का कहना है कि वह 15 वर्षों से काम कर रहे हैं। हमेशा लोगों को जागरूक किया है।
रवि कुमार का कहना है कि कोरोना के कारण आज पूरा देश संघर्ष कर रहा है, लोगों को संक्रमण से बचाने के लिए जिले का हरेक विभाग लगा हुआ है। ऐसे हालात में प्रखंड तथा समुदाय स्तर पर लोगों को कोरोना तथा टीकाकरण के प्रति जागरूक करने की जिम्मेदारी भी कुरियर होने के नाते अधिक बढ़ जाती है। रवि कहते हैं वह प्रतिदिन अपने क्षेत्र का भ्रमण कर लोगों को हाथ धोने, भीड़-भाड़ में जाने से बचने एवं सामजिक दूरी जैसे उपाय अपनाने के लिए प्रेरित करते हैं। साथ ही वह टीकाकरण, परिवार नियोजन, मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य कार्यक्रमों को पुनः नियमित करने की दिशा में भी उल्लेखनीय कार्य कर रहे हैं।

संक्रमण से बचाव को कर रहें जागरूक:

कोरोना संक्रमण के बीच कई अन्य जरुरी स्वास्थ्य सेवाओं को बहाल करने की कोशिश की जा रही है। इस दिशा में रवि कुमार निरंतर प्रयास कर रहे हैं। वह क्षेत्र में टीकाकरण सत्रों एवं फ्रंट लाइन वर्करों को भी जागरूक करते हैं।

गांव मे आने वाले बच्चों एवं गर्भवती महिलाएं पर है पैनी नजर:

रवि कुमार अपने क्षेत्र में सभी कार्यों का रिकॉर्ड रखते हैं और इसकी पूरी जानकारी वे , एएनएम को मुहैय्या कराते हैं। साथ ही कोरोना मरीजों की जांच में भी अपना सहयोग करते हैं।

अन्य कुरियर के लिए हैं रोल मॉडल :

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉक्टर कुमार विवेकानंद ने बताया कि कुरियर रवि कुमार जिले के अन्य कुरियर के लिए मॉडल हैं। कई कुरियर उनकी कार्यशैली का अनुसरण कर रहे हैं। वह रवि के कार्य करने के तरीके से प्रेरित भी होते हैं। उन्होंने बताया कि कुरियर रवि कुमार का कार्य सराहनीय है। इस महामारी के समय में जिले के सभी स्वास्थ्य कर्मी अपना बेहतर योगदान दे रहे हैं एवं संक्रमण से समुदाय को सुरक्षित करने के लिए हर संभव प्रयास भी कर रहे हैं।

युगेश्वर कुमार
कोशी की आस@सहरसा

- Advertisement -