डोर टू डोर सर्वे का काम शुक्रवार से शुरु होगा : सिविल सर्जन

0
66
- Advertisement -
  • सहरसा, 30 अप्रैल : कोरोना वायरस के संक्रमण के विस्तार को देखते हुए जिले में डोर टू डोर सर्वे का काम कराया जाएगा। इस काम को पल्स पोलियो की तर्ज पर किया जाएगा। जिसमें आशा, आंगनबाड़ी सेविका तथा अन्य स्वैच्छिक कार्यकर्ता के माध्यम से शत- प्रतिशत घरों में सर्वे का काम शुक्रवार से शुरु कराया जाएगा। सिविल सर्जन डाॅ अवधेश कमार ने कहा कि इस कार्य के लिए सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को प्रशिक्षण दे दिया गया है। 5 दिन चलने वाले इस सर्वे कार्य के बाद रि- विजीट का कार्य नहीं होगा।

सभी प्रभारी को दिया गया प्रशिक्षण . जिला सिविल सर्जन

- Advertisement -

प्रवासी गांव को सर्वे में प्राथमिकता

डॉक्टर कुमार विवेकानंद ने बताया कि सर्वे कार्य का वैसे गांव से प्राथमिकता के आधार पर किया जाएगा जहां राज्य के बाहर से अधिक संख्या में लोगों का आगमन हुआ है। अभी के कोरोना पाॅजीटिव के ट्रेंड में प्रवासियों मे यह संक्रमण ज्यादा देखने को मिल रहा है। प्रवासियों के गांवों के सर्वे के बाद शेष बचे शत.प्रतिशत घरों का सर्वे में 5 दिनों में ही संपन्न कराया जाएगा। जिन घरों का सर्वे किया गया उसका फालो अप आशाए आंगनबाड़ी सेविका के द्वारा लिया जाएगा। सर्वे दल द्वारा चिन्हित तथा कोरेन्टीन किये गए संदिग्धों के सैंपल प्रयोगशाला को भेजना सुनिश्चित किया जाएगा।

वार्ता में मौके पर सभी प्रखंड के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, यूनिसेफ के एसएमसी, एसआरसी अभय कांत श्रीवास्तव तथा बंनटेश नारायण मेहता, डब्ल्यूएचओ के एसआरटीएल डॉ राजेश कुमार वर्माए जिला प्रतिरक्षण कार्यालय के कर्मी दिनेश कुमार दिनकर मौजूद थेे।

युगेश्वर कुमार
कोशी की आस@सहरसा

- Advertisement -