एक वर्ष बाद भी किसानों को नहीं मिला बीज का अनुदान राशि

0
369
- Advertisement -

राजेश कुमार सहरसा:

 

- Advertisement -

 

जिले के जो किसान पिछले वर्ष 2018 में गेहूं व धान का बीज खरीद कर अपने खेत में लगाये थे उससे संबंधित अनुदान राशि अभी तक किसानों को नहीं मिला है।

वर्ष 2018 जून माह में जीरो टिलेज का गेहूं का बीज महावीर ट्रेडर्स नवहट्टा के द्वारा किसानों को मिला था, किसान गेहूं की कटाई करके घर भी ले आया है, लेकिन सरकार के द्वारा अभी तक किसानों को बीज खरीद का अनुदान राशि नहीं दिया गया है। जीरो टिलेज का गेहूं का बीज का कीमत दो हजार छ सो नब्बे रुपये है। किसान बीज के अनुदान राशि के लिए पिछले 6 माह से प्रखंड कार्यालय का चक्कर काट कर निराश हो घर लौटने को मजबूर हो जाते हैं। मोके पर पीड़ित किसान मो एनुल, अरुण यादव, बकुनिया निवासी बैकुंठ झा, बच्चन पासवान, मो आना मूल हक, मो मन्नान, मो शफीक, प्रखंड एवं जिला स्तर की कृषि पदाधिकारी से अनुदान राशि अति शीघ्र उपलब्ध कराने की मांग की है।

2018 जून माह में हाइब्रिड धान एवं पैड़ी ट्रांसप्लांटर धान बीज का अनुदान राशि किसान को नहीं मिला पाया है। हाइब्रिड धान में एक सौ रुपये किग्रा के दर से किसान को अनुदान मिलता है, जो अब तक किसानों को नही मिल पाया। इस बाबत जिला कृषी पदाधिकारी दिनेश प्रसाद सिंह ने बताया कि आरटीजीएस के कारण कुछ परेशानी रहा, एक दो दिन बाद इस पर कार्य किया जाएगा। एक सप्ताह में किसानो को बीज के अनुदान राशि खाते में भेज दिया जाएगा।

- Advertisement -