JEE_NEET परीक्षा पर सरकार को पुनर्विचार कर अपना फैसला बदलना चाहिए : बंटी झा

0
61
- Advertisement -

सहरसा : कोरोना वैश्विक महामारी से संपूर्ण देश त्राहिमाम है और हर दिनलगभग 60000 से ज्यादा नए लोग संक्रमित हो रहे हैं। देश/राज्य में सांसद और विधानसभा सत्र तक स्थगित है। देश भर के लाखों छात्रों की जिंदगी और भविष्य को दाव पर लगाकर सरकार JEE-NEET की परीक्षा कराने पर तुली हुई है।

उन्होंने कहा कि छात्र और अभिभावक COVID-19 के इस दौर में सुरक्षा के लिहाज से सशंकित हैं, देश के कई हिस्सों में आई बाढ़ के कारण भी बिकराल समस्याएं बनी हुई हैं। रेल से लेकर हवाई सफर तक में दिक्कतें हैं, होटल तक बंद हैं, परिवहन की व्यवस्था सीमित है। एक जगह से दुसरे जगह आने-जाने में अभी शारीरिक कष्ट के साथ-साथ मानसिक और आर्थिक कष्ट भी हो रहा है। ऐसे मे छात्र विरोधी सरकार के द्वारा परीक्षा आयोजित करना कहां तक उचित है ??

- Advertisement -

हेमंत चौधरी
कोशी की आस@सहरसा

- Advertisement -