कोसी क्षेत्र के जातिवादी विचारधारा के जनप्रतिनिधि सामाज को समाजिक केंसर से कर रहे हैं ग्रसित – सुमन सौरभ

0
134
- Advertisement -

सहरसा : जनतांत्रिक लोकहित पार्टी के जिला कार्यालय सहरसा में लॉकडाउन का पालन करते हुए जिला कार्यकारणी सदस्यों की एक बैठक आयोजित हुई। जिले के बनगाँव निवासी जनतांत्रिक लोकहित पार्टी के प्रदेश महासचिव सुमन सौरभ ने बताया की पार्टी के जिलाध्यक्ष अशोक कुमार ने पार्टी विस्तार करते हुए सुखासनी निवासी बिंचु यादव को महिषी प्रखंड अध्यक्ष तथा अमित कुमार को महिषी प्रखंड उपाध्यक्ष मनोनीत किया साथ ही शहर के तिवारी टोला वार्ड नंबर 31 निवासी द्रोपति देवी को कहरा प्रखंड के महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष मनोनीत किया गया।

उन्होंने कहा कि सहरसा मेरा गृह जिला है इसलिये मैं कोसी की समस्या को नजदीक से जनता हूँ। कोसी का दुर्भाग्य है कि यहाँ के जनप्रतिनिधि पिछ्ले 30 सालों से समाज में जातिवादी विचारधारा का बीज बोते जा रहे हैं साथ ही ग्रामीण समस्या को हमेसा नजर अंदाज करते आए हैं, जिसका नतीजा आज कोसी के 18 वर्ष से कम उम्र वाले युवा बहुत अधिक संख्या में उचित शिक्षा और रोजगार के अभाव में अपराध और नशा में लिप्त होते जा रहे हैं। ये समस्या समाज के लिए केंसर है जिसका अतिशिघ्र ईलाज जरुरी है। क्षेत्रीय प्रशासन भी इसमें ठोस कदम उठाने के बजाय सिर्फ और सिर्फ कागजी खानापुर्ति करती है। पार्टी को ऐतिहासिक रुप से विस्तार करने के लिये मैं खुद भी गंभीर हूँ ताकी समस्या का निदान हो सके। साथ ही योग्य और प्रतिभावान कार्यकर्ताओं के चयन पर खुद से चयन पर विचार-विमर्श करता हूँ। जनतांत्रिक लोक हित पार्टी अपने नाम को सामाज में उतारने के लिये प्रतिबद्ध है ताकि समाज को एक श्रेष्ठ एवं वचनबद्ध जनप्रतिनिधि मिले।

- Advertisement -

बैठक में सहरसा को उचित एवं योग्य जन प्रतिनिधि दिलाने पर भी विमर्श किया गया है। एक सर्वोत्तम एवं उत्कृष्ट समाज के निर्माण हेतु एक श्रेष्ठ जन प्रतनिधित्व प्राप्त हो ताकि जनता को उनका अधिकार और हक मिले और उनका शोषण ना हो। साथ ही क्षेत्र के सर्वांगीण विकास हेतु सहरसा के चारों विधानसभा से उमीदवारों की घोषणा को लेकर वृहत रूप से चर्चा हुई। आयोजित बैठक में जिलाध्यक्ष अशोक कुमार, जिला उपाध्यक्ष प्रमोद मिश्र, जिला उपाध्यक्ष विनोद दास, सिमरीबख्तियारपुर प्रखंड अध्यक्ष जीवेश सिंह सहित अन्य दर्जनों कार्यकर्ता मौजुद रहे।

रितेश : हन्नी
कोशी की आस@सहरसा

- Advertisement -