मानव सेवा से बेहतर कोई सेवा नहीं – संतोष दीक्षित

0
121
- Advertisement -

रितेश : हन्नी
कोशी की आस@सहरसा

सम्पूर्ण देश में कोरोना संक्रमण को लेकर लॉक डाउन है। इसी बीच खबर बिहार के सहरसा जिला से है। जहाँ लॉक डाउन के दौरान मानव सेवा कर एक पुलिसकर्मी ने मानवता का मिशाल कायम किया है। कोशी क्षेत्र के पुलिस उप महानिरीक्षक कार्यालय में कार्यरत रीडर संतोष दीक्षित के द्वारा गरीब, निःसहाय लोगों के बीच 100 kg चूरा, 50 kg चीनी, 100 पैकेट बिस्किट एवं 50 kg दालमोट वितरित किया।

- Advertisement -

उन्होंने कहा कि मानवता से बढ़कर कुछ नहीं, मानव सेवा ही असली सेवा है। हम सिर्फ कर्तव्य पालन ही नहीं बल्कि मानव सेवा में भी सबसे आगे रहते हैं। क्योंकि हम बिहार पुलिस हैं। बता दें कि कोशी क्षेत्र के पुलिस उप-महानिरीक्षक कार्यालय में कार्यरत रीडर संतोष दीक्षित जिनका पिछले वर्ष स्पाइन का ऑपरेशन हुआ है।

मीडियाकर्मी द्वारा पुछे गए सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने बताया कि इस विकट परिस्थितियों में कोई भूखा न सोये यह हम सब लोगों की वास्तविक जिम्मेवारी है। उन्होंने कहा कि सरकार के द्वारा दिये गए निर्देशों का अनुपालन देखकर मन को प्रसन्नता प्राप्त होती है। बतातें चले कि श्री दीक्षित द्वारा यह खाद्यन्न व्यवहार न्यायालय, पटेल मैदान में रह रहे घुमंतू लोगों के बीच वितरण किया गया।

- Advertisement -