सहरसा : मूल्यांकन कार्य के लिए प्रतिनियुक्त परीक्षकों के योगदान नहीं करने पर, उनके विरूद्ध होगी प्राथमिकी दर्ज-DM

0
120
- Advertisement -

रितेश : हन्नी
कोशी की आस@सहरसा

जिले में इंटरमीडिएट परीक्षा 2020 की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन कार्य के लिए प्रतिनियुक्त परीक्षकों के योगदान नहीं करने एवं मूल्यांकन कार्य बाधित करने के कारण जिलाधिकारी कौशल कुमार ने परीक्षकों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया है। उल्लेखनीय है कि जिले में इंटरमीडिएट परीक्षा 2020 की व्यवहृत उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य दिनांक 26. 02. 2020 से दो मूल्यांकन केन्द्रों आर. एम. कॉलेज, सहरसा एवं रमेश झा महिला कॉलेज, सहरसा पर प्रारंभ है।

- Advertisement -

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति पटना के स्तर से मूल्यांकन केन्द्र पर प्रधान परीक्षक एवं सह परीक्षकों की प्रतिनियुक्ति की गई है। मूल्यांकन केन्द्र निदेशकों द्वारा सूचित किया गया है कि अभी तक सभी प्रतिनियुक्त परीक्षक के द्वारा मूल्यांकन केन्द्र पर योगदान नहीं किया गया है। अंतिम रूप से योगदान नहीं करने वाले परीक्षकों को सूचित किया गया है कि वे दिनांक 29. 02. 2020 तक निर्धारित मूल्यांकन केन्द्र पर योगदान देना सुनिश्चित करें।

अन्यथा मूल्यांकन कार्य हेतु योगदान नहीं करने की स्थिति में उनके विरूद्ध अध्यक्ष बिहार विद्यालय परीक्षा समिति, पटना एवं प्रधान सचिव, शिक्षा विभाग बिहार पटना के आदेश के आलोक में मूल्यांकन कार्य में व्यवधान डालने एवं छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ मानते हुए परीक्षा अधिनियम की सुसंगत धारा – 1981 के तहत प्राथमिकी दर्ज करते हुए निलंबन की कार्रवाई आरंभ कर दी जाएगी।

- Advertisement -