निजी एजेंसी के कलेक्शन कर्मी से लुटपाट कर चाकु मारकर किया जख्मी …

0
149
- Advertisement -

रितेश : हन्नी

कोसी की आस@ सहरसा

- Advertisement -

स्थानीय बंगाली बाजार रेलवे ढाला के निकट मंगलवार की देर शाम 7 : 30 बजे पूरब बाजार स्थित निजी ऐजेंसी मां काली इंटरप्राइजेज के कलेक्शन कर्मी मनीष कुमार वर्मा से हथियारबंद तीन नकाबपोश अपराधियों द्वारा रेलवे पटरी पर हथियार के बल पर 80 हजार की लूट की वारदात को अंजाम दिया गया। लूट के क्रम में विरोध किए जाने पर उनके पेट पर चाकू से दो बार वार किए गए लेकिन संयोगवश दोनों ही वार में मामूली जख्म हुआ। जिसके बाद लुटेरे, लूट की घटना को अंजाम देकर गंगजला रेलवे ढाला की ओर आराम से निकल गए। घायल कर्मी सदर अस्पताल में इलाजरत है।

 

वहीं उनके द्वारा सदर थाने में आवेदन देकर मामले को दर्ज करावाने का प्रयास किया गया। उनके आवेदन पर बुधवार को पीड़ित के साथ सदर थाना अध्यक्ष राजमणि मौके पर पहुंचे। लेकिन पीड़ित द्वारा दिए गए आवेदन एवं स्थिति के आकलन के बाद मामला राजकीय रेल थाना इलाके की प्रतीत हुई। जिसके बाद राजकीय रेल थाना अध्यक्ष को बुलाकर मामला सुपुर्द कर दिया गया है। अब राजकीय रेल थाना अध्यक्ष मामले की अगली कार्रवाई करेंगे। पीड़ित सुपौल जिले के जगतपुर गांव के वार्ड नंबर 10 निवासी हैं और सहरसा में बस स्टैंड के पीछे भाड़े के मकान में रहते हैं। वे पूरब बाजार स्थित मां काली इंटरप्राइजेज ऐजेंसी के कलेक्शन कर्मी है। वे मंगलवार को स्थानीय बाजार से चार दुकानदारों से 80 हजार रूपए इकट्ठे कर वापस एजेंसी जा रहे थे। शाम के लगभग 7 : 15 बजे उन्हें बंगाली बाजार के निकट किसी अन्य कार्य की वजह से अपनी गाड़ी को ढाले के किनारे लगाकर अपना कार्य करने चले गए। तभी पीछे से आए तीन नकाबपोश हथियारबंद अपराधियों द्वारा उनके पीठ पर हथियार सटाकर गंगजला ढाला की ओर रेल पटरी ही लेकर जाया गया। आधे रास्ते पर जब वे भागने का प्रयास किए तो उन पर चाकू से हमला किया गया जो उनके पेट पर लगी। जिसके बाद लुटेरे आराम से उनके पैसे, मोबाइल सहित अन्य कीमती सामान लेकर फरार हो गए। सदर थाना अध्यक्ष राजमणि ने बताया कि मामला रेल थाना का है। रेल थाना के पदाधिकारी को बुलाकर मामला सुपुर्द कर दी गई है। अब वे इनकी जांच पड़ताल करेंगे। मौके पर ट्रेनी डीएसपी नवनीत कुमार भारती भी मौजूद थे।

 

- Advertisement -