पत्नी ने पति संग मिलकर प्रेमी की हत्या की, हत्या में संलिप्त पति-पत्नी हुए गिरफ्तार

0
311
- Advertisement -

सहरसा जिले के महिषी थाना क्षेत्र में बीते शनिवार को तेलहर गांव के मिडिल स्कूल के समीप सड़क से दक्षिण एक पोखर में महिषी थाना पुलिस को 26 वर्षीय एक अज्ञात युवक का संदेहास्पद स्थिति शव बरामद हुआ था। अज्ञात युवक की शव बरामदगी के बाद पुलिस ने हर पहलू पर जाँच करना शुरू कर दिया। कांड के उद्द्भेदन हेतु सदर एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी के नेतृत्व में महिषी थानाध्यक्ष कमलेश कुमार, आईटी सेल प्रभारी मंगलेश मधुकर के साथ टीम गठित कर छानबीन शुरू की गई। प्रथम दृष्टया घटना प्रेम प्रसंग से जुड़ा लगा। जिसके बाद आईटी सेल की मदद से अल्प समय में पुलिस ने मामले का उद्द्भेदन करते हुए घटना में संलिप्त पति-पत्नी को गिरफ्तार कर लिया।

प्रेस वार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार ने बताया कि बीते दिनों एक अज्ञात युवक का शव महिषी थाना क्षेत्र से बरामद की गई थी जिसकी पहचान बलवाहाट ओपी क्षेत्र के मोहनियां निवासी अंकुश शर्मा के रूप में की गई। पुलिस अनुसंधान के दौरान मृतक के मोबाईल और कॉल डिटेल से बहुत ही अल्प समय में मामले का खुलासा करते हुए 24 अप्रैल को घटना में संलिप्त शीत कुमार राय उर्फ राघव एवं उसकी पत्नी रुबी कुमारी (काल्पनिक नाम) को बनगाँव थाना क्षेत्र के दिल्ली बंगला ठाकुर टोला से गिरफ्तार किया।

- Advertisement -

गिरफ्तार पति-पत्नी से पूछताछ के क्रम में पता चला की शादी से पूर्व आरोपी पत्नी रुबी (काल्पनिक नाम) और मृतक अंकुश शर्मा के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था। शादी के बाद जब रुबी (काल्पनिक नाम) ने अंकुश से मिलने जुलने से दुरी बनाई तो मृतक अंकुश शर्मा द्वारा ब्लैकमेल करने की धमकी दिया जाने लगा। उक्त हरकत से तंग आकर रुबी (काल्पनिक नाम) ने प्रेमी अंकुश की लीला समाप्त करने की सोच ली। जिसके बाद रुबी (काल्पनिक नाम) ने घर में अकेले होने का नाम कहकर अंकुश को मिलने के लिए बुलाया और सुनियोजित ढंग से तैयार प्लान के हिसाब से रुबी (काल्पनिक नाम) और उसके पति ने मिलकर अंकुश शर्मा की हत्या कर शव को तालाब में फेंक दिया।

पुलिस के गिरफ्त में आये आरोपी पति – पत्नी ने पुलिस के सामने अपना गुनाह कबूल करते हुए अंकुश शर्मा के हत्या करने की बात स्वीकार कर ली। जिसके बाद पुलिस ने हत्यारोपी पति-पत्नी को सलाखों के पीछे डाल दिया। मौके पर पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बलिराम चौधरी, सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी प्रभाकर तिवारी, महिषी थानाध्यक्ष कमलेश कुमार, आईटी सेल प्रभारी मंगलेश मधुकर सहित अन्य मौजूद रहे।

रितेश : हन्नी
कोशी की आस@सहरसा

- Advertisement -