कोरोना संकट के दौरान “रक्तदान जागरूकता सेवा समिति, सहरसा” द्वारा फॉगिंग कर मुहल्लों को किया जा रहा सेनिटाइज।

0
67
- Advertisement -

रितेश : हन्नी
कोशी की आस@सहरसा

- Advertisement -

कोरोना जैसी महामारी की वज़ह सरकार ने समूचे देश में लॉक डाउन लगा रखा है उसमें सिर्फ स्वास्थ्य, पुलिस समेत कुछ आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को ही कार्य पर जाने की अनुमति है। इस वैश्विक संकट की घड़ी में यूँ तो सरकार अपने स्तर से काफी प्रयास कर रही है लेकिन भारत जैसी विशाल और सघन आबादी वाले देश में सिर्फ सरकार पर निर्भर रहने से समाधान नहीं होगा।

संकट की व्यापकता को देखते कई उद्योगपति, समाजसेवी, खिलाड़ी, अभिनेता विभिन्न रूपों में सरकार के साथ आमजनमानस को मदद के लिए सामने आए हैं। उसी कड़ी में “रक्तदान जागरूकता सेवा समिति, सहरसा” यूँ तो रक्तदान के क्षेत्र में कार्य करती है लेकिन इस वक्त कोरोना के संक्रमण से आम लोगों को बचाने अपने अध्यक्ष कुमार कृष्ण शेखर के नेतृत्व में बैजनाथपुर, सहरसा के वार्डों में ब्लीचिंग आदि से फॉगिंग कर मुहल्लों को सेनिटायजेशन का कार्य कर रही है।

कुमार कृष्ण शेखर जी ने इस जानलेवा महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण के संदर्भ में लोगों को सतर्क रहने तथा सरकार के द्वारा समय-समय पर जारी निर्देशों का पालन करने को कहा। साथ ही इस महामारी से मिल कर लड़ने का आह्वान करते हुए, इसे जल्द हराये जाने की उम्मीद जताई।

- Advertisement -