सहरसा : सड़क निर्माण को ले आमरण अनशन पर बैठे ग्रामीण।

0
51
- Advertisement -

रितेश : हन्नी
कोशी की आस@सहरसा

दिनांक – 30/01/2020 से बनगाँव (द०) बरियाही बायपास सड़क निर्माण के लिए आमरण अनशन शुरू हो गया। अनशन के पहले दिन अनशन पर बैठे कोशी युवा संगठन के संस्थापक युवा नेता सोहन झा एवं बुद्धिजीवी विचार मंच के संयोजक शशिधर ठाकुर समेत अनशनकारियों ने कहा कि जब तक सरकार बनगाँव वासियों की मांग को मान नहीं लेते तब तक हम अनशन नहीं तोड़ेंगे, चाहे हमारी जान क्यों नहीं चली जाए।

- Advertisement -

युवा नेता सोहन झा ने कहा कि 2013 में बिहार के मुख्यमंत्री माननीय नीतीश कुमार जी बनगाँव आए थे। उसी समय एक कार्यक्रम के दौरान नीतीश कुमार जी बनगाँव की घनी आबादी को देखते हुए गांव के दक्षिणी भाग से बाईपास सड़क निर्माण करवाने का आश्वासन दिए थे। लेकिन 7 साल बीत जाने के बाद भी आज तक बाइपास सड़क का निर्माण नहीं हो पाया। कुछ महीने पूर्व सरकार द्वारा गांव के बीचो-बीच नेशनल हाईवे बनवाने का आदेश निर्गत किया गया है। अगर ऐसा होता है तो बनगाँव ग्रामवासीयों को काफी जानमाल की क्षति पहुंचेगी और हमेशा हादसे का डर बना रहेगा।

वहीं शशिधर ठाकुर ने कहा कि बीते 5 जनवरी को मधेपुरा में बिहार के मुख्यमंत्री माननीय नीतीश कुमार जी से हमलोग मिलकर 2013 में बनगाँव ग्राम वासियों से किए गए वादों को याद दिलाते हुए उनसे आग्रह किए थे कि 30 जनवरी से पहले बाईपास सड़क निर्माण का आदेश निर्गत कराया जाए अन्यथा 30 जनवरी से हम लोग अनिश्चितकालीन आमरण अनशन पर चले जाएंगे। लेकिन 30 जनवरी तक सरकार द्वारा बायपास सड़क की निर्माण को लेकर कोई भी निर्णय नहीं लिया गया।

वही अनशन स्थल पर मौजूद बनगाँव के दक्षिण पंचायत के मुखिया श्री विनोद प्रसाद झा एवं ग्रामीण वासियों ने कहा कि स्थानीय जनप्रतिनिधि अगर जल्द से जल्द हम बनगाँव वासियों की समस्या को समझते हुए अनशनकारियों की माँग को नहीं मानते है तो हम सभी ग्रामीण अनशन पर बैठ जाएँगे।अनशन स्थल पर मौजूद गोपाल झा, पुतुल खाँ, अंशु मिश्रा, रणजीत भगत पंचायत समिति श्री विश्वनाथ खाँ, हीरेंद्र कुमार झा, शुभांकर ठाकुर, अंजनी झा, संतोष मिश्र, सदाशिव झा, मालिक खा, भारतेन्द्र रमण, परमेश्वर झा, कन्हैया कुमार, बलराम झा सहित अन्य ग्रामीण उपस्थित रहे।

- Advertisement -