वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ाई में सबसे बड़े योद्धा हैं सफाई कर्मचारी – शालीनी

0
68
- Advertisement -

कोरोना महामारी के खिलाफ विपरीत परिस्थितियों में सफाई कर्मचारी पूरी तरह मुस्तेदी के साथ अपनी जिम्मेदारियों को निभा रहे है। कोरोना के खिलाफ इस जंग में सबसे आगे बढकर अपना योगदान दे रहे कोरोना सेनानी सफाई कर्मियों को ”संगिनी” की सदस्य शालिनी सिंह तोमर और नैना सरकार ने अपने हाथो से सम्मानित कर उनकी हौसला आफजाई की और उनके इस जज़्बे को सलाम किया। सफाई कर्मियों के हौसले और जिम्मेदारी की ”संगिनी” प्रशंसा करती हैं। शालीनी सिंह तोमर कहती है कि लॉकडाउन में अपनी जिम्मेदारी के साथ लोगों को संक्रमण से बचाने में जहाँ डॉक्टर अपनी भूमिका निभा रहे हैं। वहीं पुलिसकर्मी भी लॉकडाउन का पालन कराने में रक्षक बनकर मैदान में हैं, लेकिन एक और योद्धा है, जो इस कोरोना की जंग में अपनी मौजूदी का अहसास कराकर लोगों को संक्रमित होने से बचा रहा है, वह है सफाई कर्मी। कोरोना की इस जंग में गंदगी को दूर करने वाले ये सफाई कर्मचारी रूपी योद्धा आज भी उसी ईमानदारी और जिम्मेदारी से अपने कर्तव्यों का निवाह कर रहे हैं जैसे पहले करते आये हैं। कोरोना के लॉकडाउन में सबसे बड़ा योद्धा सफाई कर्मचारी है। जो सुबह से ही शहर और गांव को गंदगी मुक्त करने में जुट जाते हैं।

नैना सरकार कहती है कि सफाई कर्मी जान जोखिम में डालकर शहर औऱ गांव में पहुंचकर सफाई करते हैं, ताकि कोरोना वायरस का संक्रमण न फैले। इनको सम्मानित कर के मुझे बहुत गर्व महसूस हो रहा है।  संक्रमण से बचने के लिए नियमित अपने आस-पास की सफाई भी एक बड़ी जिम्मेदारी का काम है, लेकिन इन योद्धाओं ने अपने काम को बखूबी अंजाम दे रहे हैं। इनके कार्यों की हम सराहना करते है। इन्हें मेरा सलाम हैं।

- Advertisement -

रितेश : हन्नी

कोशी की आस@सहरसा

- Advertisement -