सहरसा: बीते दिनों सड़क हादसे में जख्मी हुए शख्स की इलाज के दौरान मौत

0
49
- Advertisement -

सहरसा – जिले के सलखुआ थाना क्षेत्र के कोपरिया गांव के निकट मोटर साइकिल-टाटा पिकअप वाहन की भिड़ंत में बुरी तरह घायल हुए 55 वर्षीय व्यक्ति की इलाज के दौरान पटना में मौत हो गई। जख्मी की मौत की खबर मिलते ही आक्रोशित परिजनों ने एम्बुलेंस के द्वारा शव लेकर पटना से सीधा सलखुआ थाने का घेराव करने के लिए थाना पहुंच गए और आरोपी वाहन चालक को अविलम्ब गिरफ्तार करने के साथ ही पीड़ित परिवार को मुआवजा देने की मांग करने लगे।

- Advertisement -

मृतक का नाम नाथो शर्मा है जो जिले के बनमा इटहरी प्रखंड के कासीमपुर वार्ड नं-03 का रहने वाला था। बीते 12 सितम्बर को नाथो शर्मा खगड़िया जिले के मानसी स्थित अपनी बेटी के ससुराल से अपना गांव लौट रहा था इसी दौरान सहरसा जिले के सलखुआ प्रखंड के कोपरिया गांव के निकट तेज रफ्तार से आ रही पिकअप वाहन ने बाइक सवार नाथो शर्मा को जबरदस्त टक्कर मार दिया जिससे वो बुरी तरह घायल हो गए। वहीं परिजन ने आनन फानन में घायल नाथो शर्मा को इलाज के लिए सहरसा सदर अस्पताल लाया गया लेकिन उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए बेहतर इलाज के उसे पटना रेफर कर दिया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

_मौत के बाद आक्रोशित भीड़ ने आरोपी चालक को थाना से ही बेल दे देने का सलखुआ पुलिस पर आरोप लगा थाना का घेराव कर किया प्रदर्शन_

शव लेकर थाना पहुंचे परिजन ने सलखुआ पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि घटना के उपरांत आरोपी चालक और वाहन दोनो पुलिस के हवाले कर दिया गया था लेकिन पुलिस ने आरोपी चालक को थाने से ही बेल दे दिया गया जिसको लेकर गुस्साए लोग सलखुआ थाने का घेराव करने के लिए शव लेकर थाना पहुंच गए वहीं सलखुआ पुलिस के द्वारा आक्रोशित लोगों को समझाने की प्रयास करती रही लेकिन आक्रोशित लोग सलखुआ पुलिस की बात मानने को तैयार नहीं हुए।

जिसके बाद मौके पर सिमरी बख्तियारपुर पुलिस सर्किल इंसपेक्टर कृष्ण कुमार सलखुआ थाना पहुंचे जहां उन्होंने आक्रोशित लोगों को समझा बुझाकर शांत कराया और उचित कानूनी कार्यवाही करते हुए पीड़ित परिवार को सरकारी स्तर का मुआवजा दिलवाने का आश्वासन दिया तब जाकर मामला शांत हुआ। जिसके बाद परिजन सहित आक्रोशित लोग शव लेकर अपने गांव लौट गए।

रितेश हन्नी
कोशी की आस@सहरसा

- Advertisement -