सहरसा: CBSE के बाहरवीं की परीक्षा को रद्द करना PM का स्वागतयोग्य कदम – संजय कुमार उर्फ पप्पू देव

0
180
- Advertisement -

सहरसा: प्रधानमंत्री द्वारा कोरोना संक्रमण को देखते हुए सीबीएसई के 12 वीं के परीक्षा को रद्द करना स्वागतयोग्य कदम है। समाजसेवी संजय कुमार उर्फ पप्पू देव ने बताया कि बच्चे के भविष्य को देखते हुए जो कदम भारत के प्रधानमंत्री ने उठाया है यह स्वागतयोग्य है। उन्होंने बताया कि कोरोना का तीसरा लहर अभी आना बाकी है जबकि दूसरे लहर में कितनों की जान चली गयी।

पप्पू देव ने बताया कि अगर बच्चे सुरक्षित रहेगें तो आगामी कई तरह के परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। बच्चे देश के भविष्य होते है और इनके भविष्य को सुरक्षित रखना सरकार की जिम्मेदारी है। प्रधानमंत्री ने इस जिम्मेदारी को बखूबी निभाया और आगामी समय तक बच्चे के परीक्षा को रद्द किया। लेकिन 12 वीं की परीक्षा के बाद ही बच्चों के विभिन्न क्षेत्रों में जाने का अवसर प्राप्त होता है। इन बिंदुओं पर भी सरकार को ध्यान देने की जरूरत है एवं एक ऐसा गाइडलाइंस तैयार करने की जरूरत है जो छात्र छात्राओं के हित में हो।

- Advertisement -

उन्होंने बताया कि अच्छे कॉलेजों में दाखिला भी बारवीं के बाद ही होता है और आईटीआई, आईआईटी, इंजीनियरिग, मेडिकल आदि की भी तैयारी 12 वीं की परीक्षा के बाद शुरू होती है। हालांकि प्रधानमंत्री ने जब इतना बेहतर कदम बच्चों के हित में उठाया है तो जरूर बच्चे के भविष्य को लेकर महत्वपूर्ण कदम उठाएंगे। आज जो करोड़ो परिवार के बीच प्रधानमंत्री कल्याण अन्न योजना के तहत लोगों को मुफ्त खाद्यान्न दिया जा रहा है यह भी काबिले तारीफ है, जिससे कोई व्यक्ति भूखा नहीं रहेगा।

रितेश हन्नी
कोशी की आस@सहरसा

- Advertisement -