सहरसा: कोरोना महामारी को देखते हुए लोगों ने संयम के साथ घर में मनाया मोहर्रम

0
88
- Advertisement -

सहरसा: पतरघट ओपी क्षेत्र ग्राम पंचायत पामा में इस बार मोहर्रम पर्व में ग्रामीणों में कोई खास दिलचस्पी नहीं दिखा। कोविड-19 के चलते लोगों ने सरकार की गाइडलाइन का भलीभांति अनुपालन कर अपने अपने घर में मोहर्रम का पर्व मनाया। मालूम हो कि पामा पंचायत में हर साल काफी उत्साह के साथ मुहर्रम पर्व मनाया जाता था लेकिन इस बार ऐसा कुछ देखने को नहीं मिला।

पामा वाड नंबर 6 की सदस्य जयराम कुमार यादव के द्वारा अल्लाह की इमारत पर एक ताजिया बना करके चढ़ाया गया। वार्ड सदस्य ने बताया अल्लाह और ईश्वर एक होते हैं। हमें यहां से एक अच्छा संदेश मिलता है। हम लोग जात पात धर्म मजहब से ऊपर उठकर के समाज के बीच एक अच्छा मैसेज देना चाहते हैं।

- Advertisement -

मोहम्मद अजीज ने बताया कि हम सभी मुसलमान पामा के हिंदुओं का सम्मान करते हैं और अपना समाज समझते हैं। उन्होंने कहा कि कभी भी हम सबों के बीच कोई भेदभाव व जात पात का कोई वातावरण नहीं हुआ। जब भी मुहर्रम पर्व हमलोग मनाते हैं हिंदू समाज का बहुत बड़ा योगदान मिलता है। हम लोग यहां के हिंदुओं को साधुवाद देते हैं,अल्लाह सब को सलामत रखे।

मौके पर उपस्थित मोहम्मद रसूल, मोहम्मद शरीफ,मोहम्मद हफीज, मोहम्मद इस्लाम, फिरोज, मोहम्मद मजीद, कांग्रेस नेता सुल्तान रुस्तम खलील, जलील रसूल,आलमीन शाहिद आदि मुस्लिम समुदाय तथा पामा सरपंच सुबोध कुमार सिंह, श्रीकांत सिंह, जयराम कुमार, रामचंद्र यादव भी उपस्थित थे।

हेमंत चौधरी
कोशी की आस@सहरसा

- Advertisement -