सहरसा, मधेपुरा: सड़क की हालत जर्जर होने से आवागमन में भारी परेशानी

0
704
- Advertisement -

न्यूज। महुआ बाजार(सोनबरसा राज), शाहजादपुर, सहरसा

 

- Advertisement -

सहरसा के सोनबरसा राज प्रखण्ड अंर्तगत, खासकर ग्रामीण इलाकों में बदहाल सड़कें स्थानीय लोगों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। यहाँ कई वर्षों से लोग जर्जर सड़क पर ही आवागमन कर रहे हैं।

मिली जानकारी के अनुसार महुआ-झिटकिया गाँव होते हुए प्रखण्ड मुख्यालय व जिला मुख्यालय को जोड़ने वाली एक मुख्य सड़क की हालत जर्जर होने से लोगों को आवागमन में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बताया जाता है कि जब से सड़क का निर्माण हुआ, उसके बाद आज तक कभी भी सड़क की मरम्मति कार्य नहीं हुआ। स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि सड़क की हालत जर्जर व सड़क पर जगह-जगह गड्ढे होने से और खासकर जगह-जगह पुलिया के क्षतिग्रस्त व टूटने से सबसे अधिक परेशानी मरीजों व स्कूली बच्चों को होती है। कभी-कभी तो जर्जर व बदहाल सड़क की वजह से कई राहगीरों को दुर्घटना का शिकार होना पड़ता है।

स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि इस समस्या के बारे में स्थानीय सांसद व विधायक का कई बार ध्यान आकृष्ट कराया गया लेकिन किसी ने नहीं सुनी, जिससे ग्रामीणों में काफी आक्रोश व नारजगी देखने को मिल रहा है। जर्जर सड़क को मरम्मत कराने की मांग ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से की है।

कोसी की आस” टीम के सदस्य ने भी जब सड़कों की स्थिति का जायज़ा लेने मधेपुरा जिले के शाहजादपुर गाँव से सहरसा की यात्रा प्रारंभ की तो महज़ 60 Km की दूरी बोलेरो से तय करने में लगभग 4 घंटे का समय लगा। उक्त देरी का मुख्य कारण सड़क की ख़राब हालात है, साथ ही आम नागरिक का भी नियमों का पालन न करना। अतः हम कह सकते हैं कि प्रथमतया सरकार को अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए सड़क को ठीक कराना चाहिये और हम सबको भी अपने कर्तव्य यथा सड़क के नियमों का ध्यान रखना चाहिए।

 

- Advertisement -