सहरसा – सड़कों पर लगा कचड़े का अंबार, बीमारी का खतरा बढ़ा

0
277
- Advertisement -

रितेश : हन्नी
कोसी की आस@सहरसा

इन दिनों सहरसा नगर परिषद की हालत बद से बदतर हो गई है। चलने के लिए न तो सड़क है और जल निकासी के लिए न ही नाली। शहर भर में जगह जगह कचरे का अंबार लगा हुआ है। तस्वीर सहरसा स्थित रूपवती कन्या उच्च विद्यालय के सामने की है, जिसके मुख्य द्वार पर कचड़े का ढ़ेर जमा है।

- Advertisement -

स्कुल जाने व स्कुल से आने वाली छात्राओं को गंदगी के कारण नाक पर हाथ और रुमाल रखकर गुजरना पड़ता है। इस पर न तो नगर परिषद के अधिकारियों की नजर पड़ी और न ही स्थानीय जनप्रतिनिधियों की। विद्यालय की छात्राओं ने बताया कि स्कुल के मुख्य द्वार पर जमा कचड़े की वजह से हमलोगों को मुँह पर रुमाल रखकर जाना पड़ता है वहीं दुर्गंध की वजह से किसी किसी को तो उल्टी भी हो जाती है। आसपास के दुकानदारों ने बताया कि दुर्गंध की वजह से सड़क होकर गुजरने की स्थिति नहीं है लेकिन मुख्य मार्ग होने के कारण नाक बंद कर गुजरना पड़ता है, जिससे संक्रमण बीमारी का खतरा बढ़ गया है। इस बाबत स्थानीय लोगों ने बताया कि नगर परिषद के अधिकारियों को जल्द ही इस पर ध्यान देकर कोई समुचित विकल्प ढूंढ़ना चाहिए नहीं तो हम स्थानीय लोग उग्र आंदोलन हेतु उतारू होंगे।

- Advertisement -