सेना भर्ती केम्प में सहरसा के सैकड़ों छात्रों का भविष्य अधर में

0
104
- Advertisement -

सहरसा – सेना भर्ती कैम्प कटिहार में सेना भर्ती दौर में उत्तीर्ण अभ्यर्थियों की सहरसा अनुमंडल पदाधिकारी से निर्गत ओबीसी प्रमाण पत्र को फर्जी बताकर रिजेक्ट कर दिया गया है। रिजेक्ट किये गए छात्रों से सूचना मिली है कि उन्हें अनुमंडल पदाधिकारी सहरसा के द्वारा यह बताया गया था कि कुछ तकनीकी गड़बड़ी है जिसकी वजह से प्रमाण पत्र पर डिजिटल सिग्नेचर नहीं हो पायेगा। हम मैन्युअल प्रमाण पत्र निर्गत कर देते हैं आपलोगों का काम हो जायेगा। लेकिन कैम्प में हमें यह बताकर रिजेक्ट कर दिया गया कि जब तक सहरसा अनुमंडल पदाधिकारी स्वयं आकर यह स्वीकार नहीं करेंगे कि प्रमाण पत्र सही है, तब तक तुम लोगों को रिजेक्ट किया जाता है।

छात्रों ने यह भी बताया कि अनुमंडल पदाधिकारी से बात होने पर उन्होंने पहले तो यह बताया कि हम कुछ करते हैं। पुनः उन्होंने फोन पर बताया कि आपलोगों का प्रमाण पत्र निर्गत कर दिया गया है। आपलोग अपना प्रमाण पत्र डाऊनलोड कर सकते हैं। हमलोग जब प्रमाण पत्र डाऊनलोड करके प्रिंट करवाकर भर्ती कैम्प के बाहर गया तो हमें डंडे से मारकर भगा दिया गया।

- Advertisement -

सहरसा जिले से सेना भर्ती शाररिक दक्षता जाँच परीक्षा में उत्तीर्ण रौशन कुमार, राहुल कुमार, दिलखुश कुमार, अनीश कुमार, मनदीप कुमार, आलोक कुमार, बंटी कुमार सहित अन्य लगभग सौ से ज्यादा अभ्यर्थी सेना भर्ती कैम्प कटिहार के बाहर डटे हुए हैं।

रितेश : हन्नी
कोशी की आस@सहरसा

- Advertisement -