स्वास्थ्य उपकेंद्र चालू करने एवं जाप सुप्रीमों के रिहाई की माँग को लेकर स्वास्थ्य मंत्री का फूँका पुतला

0
65
- Advertisement -

सहरसा जिले के सौरबाजार प्रखंड अंतर्गत चंदौर पश्चमी पंचायत के महेशपुर गाँव में बंद पड़े स्वास्थ्य उपकेंद्र को सुचारू ढंग से चालू करने एवं जाप सुप्रीमों पप्पू यादव के रिहाई के मांग को लेकर स्वास्थ्य उपकेंद्र के समीप पंचायत के सैंकड़ों की संख्या में सामाजिक कार्यकर्ताओं ने जाप छात्र परिषद के प्रदेश उपाध्यक्ष नरेश निराला के नेतृत्व में बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे का पुतला दहनकर विरोध प्रदर्शन किया।

वहीं इस दौरान आक्रोशित लोगों ने सरकार विरोधी नारे भी लगाए। जानकारी देते हुए छात्र नेता नरेश निराला ने बताया कि सौरबाजार प्रखंड अंतर्गत चंदौर पश्चमी पंचायत के महेशपुर गाँव में करोड़ों की लागत से यह स्वास्थ्य उपकेंद्र बना है और ये करीब 20-25 वर्षों से बन्द पड़ा हुआ है।

- Advertisement -

उन्होंने आगे बताया कि इस स्वास्थ्य उपकेंद्र में 10 कमरें हैं। विभागीय पहल के अभाव में करोड़ों की लागत से बना स्वास्थ्य उपकेंद्र का मकान भी अब टूट-टूटकर गिर रहा है, न जाने कब गिरकर धराशाही हो जाये। स्वास्थ्य उपकेंद्र के कमरे में जलावन में प्रयोग होने वाला गोईठा गोइठा रखा हुआ है और यहाँ गंदगी का अंबार लगा हुआ है। यहाँ न कभी कोई डॉक्टर आते हैं, न ही कोई नर्स और न हीं इस कोरोनाकाल में सरकार की तरफ से कोई सकारात्मक पहल किया गया है, जिससे ग्रामीणों को चिकित्सा सुविधा का लाभ मिले।

उन्होंने कहा कि इस कोरोनाकाल में लोगों को इलाज के लिए सहरसा जिला मुख्यालय जाना पड़ता है जिस कारण लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। जिला प्रशासन एवं विभागीय पहल द्वारा इस बन्द पड़े स्वास्थ्य उपकेन्द्र को चालू करा दिया जाय तो गाँव के लोगों की परेशानी हद तक कम होगी। श्री निराला ने कहा कि इस कोरोना महामारी में लोग दवाई, ऑक्सीजन, बेड, एम्बुलेंस, भोजन के लिए लोग रोज मर रहें हैं। चारों तरफ हाहाकार मचा हुआ है और सरकार लोगों की मदद में विफल साबित हो रही है। ऐसे में लोगों की मदद हेतु जाप सुप्रीमों पप्पू यादव मसीहा बनकर रोड पर निकलते हैं। उनके द्वारा गरीबों को ऑक्सीजन, दवाई, अस्पताल में बेड, एम्बुलेंस, कोरोना से मृत व्यक्ति का दाह संस्कार हो चाहे निःसहाय लोगों को निः शुल्क खाना खिलाना, तो सरकार उसे गलत तरीके से 32 साल पुराना केस, जिसमें पप्पू यादव निर्दोष हैं, एक साजिश के तहत फँसाकर उस केस में जेल में डाल दिया जाता है।

उन्होंने कहा कि जबतक पप्पू यादव की रिहाई एवं ये स्वास्थ्य उपकेंद्र चालू नहीं हो जाता तब तक यह आंदोलन चरणबद्ध तरीका से चलता रहेगा। मौके पर युवा शक्ति प्रवक्ता लड्डू यादव, बिरेन शर्मा, वार्ड सदस्य शम्भू यादव, वार्ड सदस्य नभेश यादव, रौशन शर्मा, मनीष यादव, सूर्या यादव, किशोर कुमार, अनंत यादव, मुन्ना मेहता, छेदन यादव, वार्ड सदस्य नीतीश कुमार, मुकेश मेहता, राजकुमार राम, लड्डू राम, कुंदन यादव, अंकित यादव, बिकास यादव, पंकज यादव, शैलेश यादव, राजेश यादव, बिपुल यादव, श्याम ठाकुर, सोचित यादव, टिपिन यादव, अरबिंद यादव, जगदीश यादव, राधेश्याम यादव, विद्यानंद शर्मा सहित अन्य मौजूद रहे।

रितेश : हन्नी
कोशी की आस@सहरसा

- Advertisement -