विधान सभा चुनाव में विगत चुनाव से 10 प्रतिशत अधिक मतदान का लक्ष्य निर्धारित

0
29
- Advertisement -

सहरसा, 10 सितम्बर, 2020 : आसन्न बिहार विधान सभा आम निर्वाचन-2020 में विगत निर्वाचन से 10 प्रतिशत से अधिक मतदान प्रतिशत का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। विगत निर्वाचन में 160 के लगभग ऐसे मतदान केन्द्रों को चिन्हित किया गया जहाँ मतदान प्रतिशत काफी कम रहा है। लक्ष्य प्राप्ति में इन मतदान केन्द्रों के बी.एल.ओ. की महती भूमिका होगी। वे मतदान केन्द्रों के हर मतदाता एवं प्रभाग को जानते हैं साथ हीं मतदान केन्द्र क्षेत्र अन्तर्गत सभी मुद्दों एवं कारकों से अवगत हैं। इन मतदान केन्द्रों के सभी बी.एल.ओ. का व्यक्तिगत दायित्व होगा कि वे पूर्व की तुलना में 20 से 25 मत प्रतिशत में वृद्धि करें। इसके लिए वे एक-एक मतदाता तक पहुँचे, उन्हें जागरूक करते हुए मतदान के लिए प्रेरित करें। मतदान केन्द्र स्तर पर स्वीप गतिविधियां आयोजित कर जागरूकता अभियान चलायें।

आज जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह- जिलाधिकारी कौशल कुमार स्वीप के अंतर्गत कम मतदान प्रतिशत एवं कोशी दियारा क्षेत्र स्थित मतदान केन्द्रों के बी.एल.ओ. के उन्मुखीकरण सह कार्यशाला में उन्हें संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सभी बी.एल.ओ. व्यक्तिगत रूप से मतदाताओं से जन-सम्पर्क अभियान चलायेंगे। कोशी दियारा क्षेत्र में मतदान के दिन आवष्यकतानुसार चिन्हित टोलों/मतदान केन्द्रों के मतदाताओं के लिए मतदान केन्द्र तक पहुँचने के लिए नाव की व्यवस्था की जाएगी ताकि आवागमन में उन्हें कोई कठिनाई ना हो।

- Advertisement -

जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह- जिलाधिकारी ने कहा कि सहरसा के नागरिक काफी जागरूक एवं सक्रिय हैं। चिन्हित कम मतदान प्रतिशत एवं कोशी दियारा क्षेत्र के मतदान केन्द्रों को लक्षित कर स्वीप के अंतर्गत विभिन्न गतिविधियों के द्वारा मतदाता जागरूकता अभियान आयोजित करें। आगामी निर्वाचन में इन चिन्हित मतदान केन्द्रों के मत प्रतिशत में वृद्धि होने पर संबंधित बी.एल.ओ. को सम्मानित किया जाएगा। सभी बी.एल.ओ. अपने-अपने मतदान केन्द्र क्षेत्र में प्रवासी, अठारह वर्ष आयु पूर्ण करने वाले एवं योग्य तथा छूटे हुए मतदाताओं का अनिवार्य रूप से पंजीकरण सुनिष्चित करेंगें, कोई भी मतदाता छूटे नहीं।

जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह- जिलाधिकारी के निर्देश के आलोक में आज नव निर्मित प्रेक्षागृह में स्वीप कार्यक्रम के अंतर्गत चिन्हित कम मतदान प्रतिशत वाले एवं कोशी दियारा क्षेत्र अवस्थित मतदान केन्द्रों के कुल-147 बी.एल.ओ. की उन्मुखीकरण -सह- कार्यशाला आयोजित की गई। इस कार्यशाला में सहरसा, सोनवर्षा एवं महिषी विधान सभा क्षेत्र के निर्वाची पदाधिकारियों द्वारा बारी-बारी से विगत निर्वाचन में मतदान प्रतिशत कम रहने के कारणों की जानकारी प्राप्त की गई एवं इस संबंध में विस्तृत समीक्षा की गई।

उपरोक्त मतदान केन्द्रों को लक्षित कर माइक्रो स्तर पर सघन स्वीप कार्यक्रमों के आयोजन के संबंध में स्वीप कोषांग के नोडल पदाधिकारी ने पावर प्रजेंटेषन के माध्यम से प्रषिक्षण दिया। बी.एल.ओ. के नेतृत्व में मतदान केन्द्र स्तरीय मतदाता जागरूकता समिति गठित करते हुए संबंधित आँगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा, विकासमित्र, टोला सेवक, तालिमी मरकज सेवक, जीविका दीदी के माध्यम से स्वीप कार्यक्रम का आयोजन करने को कहा गया। प्रतिदिन किये गये स्वीप गतिविधियों का विहित प्रपत्र में प्रतिवेदन स्वीप कोषांग को उपलब्ध कराने के संबंध में निर्देश दिया गया। विधानसभावार कम मतदान प्रतिशत वाले मतदान केन्द्रों के बी.एल.ओ. का वाट्सएप ग्रुप के माध्यम से स्वीप कोषांग द्वारा प्रतिदिन मॉनिटरिंग की जाएगी। स्वीप कोषांग द्वारा उपलब्ध कराये गए IEC सामग्रियों के माध्यम से व्यापक प्रचार-प्रसार कराने के निर्देश दिये गये। वहीं आई.टी. मैनेजर द्वारा उपस्थित सभी बी.एल.ओ. को बी.एल.ओ. एप, NVSP पोर्टल एवं निर्वाचन संबंधी अन्य डिजीटल जानकारियां विडिओ फिल्म एवं पावर प्रजेंटेशन के माध्यम से प्रदान की गई। उप निर्वाचन पदाधिकारी सोहैल अहमद द्वारा निर्वाचन संबंधी अद्यतन निर्देशो से अवगत कराया गया।

इस कार्यक्रम में महिषी विधान सभा क्षेत्र के निर्वाची पदाधिकारी अपर समाहर्ता विनय कुमार मंडल, सहरसा विधान सभा क्षेत्र के निर्वाची पदाधिकारी -सह- सदर अनुमंडल पदाधिकारी शंभुनाथ झा, सोनवर्षा विधान सभा क्षेत्र के निर्वाची पदाधिकारी -सह- भूमि सुधार उप समाहर्ता राजेन्द्र दास, जिला अल्पसंख्यक कल्याण पदाधिकारी रश्मि एवं अन्य उपस्थित थे।

युगेश्वर कुमार
कोशी की आस@सहरसा

- Advertisement -