सुपौल : बाघला नदी में बच्ची की शव मिलने से मची खलबली।

0
69
- Advertisement -

सोनू भगत
कोशी की आस@सुपौल

मामला जिले के त्रिवेणीगंज मुख्यालय स्थित बाघला नदी की है। मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि मृत बच्ची कमला कुमारी (काल्पनिक नाम) उम्र करीब 8 वर्ष मलहनमा वार्ड नं0 13 की रहनेवाली है।

- Advertisement -

बताया जा रहा है कि बच्ची बीमार थी, जिसे त्रिवेणीगंज के डॉक्टर इन्द्रदेव यादव के यहाँ ईलाज के लिए लाया गया।
दवाई भी दी गई लेकिन ठीक नहीं हुआ। बाद में सुपौल डॉक्टर बी के यादव के यहाँ दिखाया गया ने बताया कि इसे गलत दवा दे दिया गया है। इसे चेचक है, यह बिना दवाई के ही ठीक हो जाता लेकिन डॉक्टर इन्द्रदेव यादव ने बिना जानकारी के दवाई चला दी है। जिस कारण इसकी मौत हो गई।
बच्ची के शव को सुपौल से मलहनमा घर लाया गया। हिन्दू रीति रिवाज के अनुसार बताया कि चेचक वाले व्यक्ति को नहीं तो जलाया जाता है और ना हीं दफनाया जाता है, इसलिए नदी में प्रवाह किया गया। प्रशासन को मिली जानकारी के बाद पुलिस स्थल पर पहुँचकर मृत बच्ची के घरवालों को बुला कर नदी किनारे गढ्ढे में डालकर दफनाया गया।

- Advertisement -