कोरोना संकट में सरकार के साथ खड़े हैं, बिहार के पांच लाख हड़ताली शिक्षक – पंकज कुमार सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष

0
56
- Advertisement -

एन के सुशील
कोशी की आस@सुपौल

हड़ताल के 29 वें दिन शिक्षकों ने कोरोना भगाओ, समाज बचाओ अभियान चलाकर लोगों को जागरुक किया। शिक्षक कोरोना से समाज को बचाने में लगे है, तो सरकार दमनात्मक कार्रवाई कर हड़ताल को कमजोर करने में लगी है, फिर भी
हड़ताली शिक्षक जान जोखिम में डाल कर समाज को कोरोना से बचाने सड़क पर उतरे हैं, उक्त बातें बिहार प्रदेश शिक्षक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष पंकज कुमार सिंह ने कहा।

- Advertisement -

कोरोना वाइरस के संक्रमण से बचाव हेतु शिक्षकों ने 29 वें दिन हड़ताल में रहकर सुपौल नगर परिषद स्थित वार्ड नम्बर 26 में बिहार पंचायत-नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष सह बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति अध्यक्ष मंडली सदस्य पंकज कुमार सिंह के नेतृत्व में जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को कोरोना से बचाव हेतु जानकारी उपलब्ध कराया गया। हड़ताली शिक्षकों द्वारा साबुन व सेनेटाइजर का भी वितरण किया गया।

प्रदेश उपाध्यक्ष सह अध्यक्ष मंडली सदस्य पंकज कुमार सिंह ने कहा कि खतरनाक कोरोना वाइरस वैश्विक महामारी का रुप धारण कर समाज के समक्ष भयानक चुनौती खड़ा कर दिया है।लिहाजा आम लोग सतर्कता बरतकर इस महामारी से बच सकते है। कहा कि आम लोगों को कोरोना से बचाने के लिए लाखों हड़ताली शिक्षक जान जोखिम में डाल कर वार्ड स्तर पर जहाँ जन जागरूकता अभियान चला रहे है, वही मांगों के समर्थन में हस्ताक्षर अभियान भी चलाया जा रहा है। कहा कि कोरोना भगाओ, बिहार बचाओ अभियान कोरोना वायरस से बचाव हेतु मील का पत्थर साबित होगा। कहा कि एक तरफ बिहार सरकार लोकतांत्रिक ढंग से हड़ताल कर रहे शिक्षकों को निलंबित, बर्खास्तगी और फर्जी मुकदमा दायर जैसे कार्यवाई कर हड़ताल को कमजोर करने में लगी है, तो दूसरे तरफ बिहार के लाखों हड़ताली शिक्षक इस भयानक विपदा में समाज और सरकार के साथ मजबूती से खड़ा होकर सामाजिक दायित्व निभा रहे हैं।

आगे कहा कि मांगें पुरा होने तक जारी रहेगा हड़ताल। बिहार पंचायत-नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ सुपौल के जिला संरक्षक सह समन्वय समिति सचिव मंडल सदस्य सुनील कुमार यादव ने कहा कि सरकार शिक्षकों के साथ भेदभाव बंद कर अविलंब वार्ता कर समस्याओं का समाधान करें। वार्ड पार्षद प्रतिनिधि शकील अहमद ने शिक्षकों के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि शिक्षकों की मांगों को जायज ठहराया। इस मौके पर जिला उपाध्यक्ष श्रवण चौधरी, एहतेशामूल हक, बिनोद कुमार यादव, कल्याणी स्वरुपा ,नीतू कुमारी, मो शाकिर , डा श्यामल कामत, राकेश कुमार रोशन, मिनतुल्लाह यजदानी, बिभाषचन्द्र सिंह, रोशन राजा, जयप्रकाश भारती,कमर अहमद, डा श्यामल कामत, राजेश कुमार, नसीम,अभिलाषा कुमारी, आशुतोष राम सहित सैकड़ों शिक्षक-शिक्षकाएं व आम लोगों मौजूद थे।

- Advertisement -