कोरोना वायरस से लड़ने के लिए सबका सहयोग अनिवार्य – नरेश निराला

0
21
- Advertisement -

एन के सुशील

कोशी की आस@ सुपौल

- Advertisement -

देश में महामारी के रुप में उत्पन्न कोरोना वायरस ने मानव को झकझोर कर रख दिया है। पूरी दुनिया इस महामारी से त्रस्त है। भारत में भी इस महामारी से बचने के लिए लॉक डाउन कर दिया गया है। बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ मूल के जिला प्रवक्ता सह सोशल मीडिया प्रभारी नरेश कुमार निराला ने कहा कि हम सब जानते ही हैं कि कैसे कोरोना वायरस ने हमारे देश को ही नहीं, बल्कि पूरे विश्व को अपनी चपेट में ले लिया है। देश भर में कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए पहले जनता कर्फ्यू लगाया गया तो फिर लॉक डाउन किया गया। इस महामारी से लड़ने के लिए सभी नागरिकों को लॉक डाउन का अवश्य पालन करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि यह वायरस संक्रमित व्यक्ति द्वारा किसी भी व्यक्ति या वस्तु को छुने से उत्पन्न होती है। इसलिए सभी को साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखने की जरूरत है। घर के बुजुर्ग पुराने समय में जूते-चप्पल बाहर रखने की सलाह देते थे। उस समय बड़ा छोटा नहीं देखा जाता था। बल्कि स्वस्थ रहने के लिए ऐसा करते थे। अब समय आ गया है कि हम फिर से उस प्रथा को अपनाएं और जूते-चप्पल बाहर रखें। अगर कोई व्यक्ति घर पर आता है तो उन्हें हाथ धोने की सलाह दें। इसके लिए आप उन्हें हैंड वॉश और सैनिटाइज़र दें। इसके साथ आप और आपके पूरे परिवार को हाथ धोने की आदत डाल देनी चाहिए। कम से कम हर एक घंटे के बाद अपने हाथों को जरूर धोएं। श्री निराला ने कहा कि जब भी आपको छींक अथवा खांसी आए तो रुमाल का इस्तेमाल करें। इससे आपका घर वायरस मुक्त रहेगा। इसके लिए आप विश्व स्वास्थ्य संगठन की एडवाइजरी को भी देखें। उन्होंने सबसे अपील करते हुए कहा कि अपने दिनचर्या में प्रणायाम, योग व व्यायाम को शामिल करे। ध्यान करने की भी आदत डालें।इससे आप स्वस्थ रहेंगे। घर की साफ़ सफाई का भी ध्यान रखें जिससे किसी भी प्रकार के वायरस आपसे कोसो दूर रहेंगे। बच्चों की इम्युनिटी कमजोर होती है। उन्हें कोरोना वायरस से बचने के लिए आवश्यक सावधानियों के बारे में बताएं और हाथों को हर एक घंटे में धोने के लिए कहे।

- Advertisement -