सुपौल : सीएए, एनआरसी और एनपीआर के विरोध में मानव श्रृंखला।(video attached)

0
80
मानव श्रृंखला
- Advertisement -

 

- Advertisement -

जिले के छातापुर प्रखंड क्षेत्र में शनिवार को सीएए (CAA), एनआरसी(NRC) और एनपीआर(NPR) के विरोध में एसएच 91 सहित ग्रामीण सड़को पर मानव श्रृंखला बनाकर विरोध जताया। मानव श्रृंखला में मुस्लिम समुदाय के अधिकतर लोग इस मुहिम में शामिल होकर एक दूसरे का हांथ पकड़कर मानव श्रृंखला का रूप तैयार कर जमकर विरोध जताया। मानव श्रृंखला में शामिल लोग हाथ में नो एनआरसी(NRC), नो एनपीआर(NPR), नो सीएए(CAA) की तख्तियां लिए इसे वापस लेने की नारे भी लगा रहे थे।

लोगों का कहना था कि सरकार द्वारा घोषित पिछले 19 दिसम्बर को राज्यव्यापी मानव श्रृंखला का आयोजन किया गया था, जो असफल रहा लेकिन आज का श्रृंखला देखने से पता चला कि एनआरसी सीएए और एनपीआर के विरुद्ध लोगो की काफी भीड़ इकट्ठा था। जैसे लग रहा था कि 2017 का श्रृंखला का नजारा दिख रहा था। इतना ही नहीं महिला, पुरूष एवं युवा वर्ग सहित स्कूली बच्चों मे इस तरह का जुनून था कि श्रृंखला के अलावे पैदल प्रतिरोध मार्च भी निकालकर विरोध जता रहे थे।

खासकर केंद्र की मोदी सरकार और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का विरोध और नारेबाजी कर मायिक के जरिये सीएए, एनआरसी और एनपीआर को वापस करने की हुंकार भर रहे थे। ख़ादिम ए मस्जली खलीकुल्लाह अंसारी ने बताया इमारते शरिया फुलवारीशरीफ के आह्वान पर वामपंथी दल और जन अधिकार पार्टी के समर्थन पर यह श्रृंखला का आयोजन किया गया है।

इस श्रृंखला का आयोजन प्रखंड मुख्यालय बाजार स्थित एसएच 91 सहित राजवाड़ा, रामपुर, हरिहरपुर, सिद्दीकी चौक, लालजी चौक, भगवतपुर के अलावे सोहटा नरपतगंज पथ में मोहनपुर कटहारा, मकुरजा हाट, चुन्नी, गिरिधरपट्टी इंद्रपुर, प्रतापनगर, फतेपुर, के अलावे छातापुर प्रतापगंज पथ के नरहैया, सुरजापुर, पड़ियाही, लक्ष्मीनिया, ललितग्राम, ठूठी, मधुबनी सहित कई गांव के ग्रमीण सड़को में भी लोग मानव श्रृंखला बनाकर कतारबद्ध तरीके सड़क किनारे दो बजे से तीन बजे तक खड़े थे।

सोनू आलम
कोशी की आस@सुपौल

- Advertisement -