लॉक डाउन से बाजारों में पसरा रहा सन्नाटा, सड़क पर गाडियों के आवाजाही पर प्रशासन सख्त

0
38
- Advertisement -

एन के सुशील
कोशी की आस@सुपौल

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए राज्य सरकार द्वारा सुबे में 31 मार्च तक लॉक डाउन किया गया था। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी के द्वारा पूरे भारत को 14 अप्रैल तक के लिए लॉक डाउन कर दिया गया, जिसके पालन में सभी तत्परता से जुट गए है। पुलिस वाले दिन भर गस्ती करते देखे जा रहे है। प्रशासन द्वारा माइक से अलाउंस कर लोगों को अपने घरों में रहने की निर्देश दी जा रही है।

- Advertisement -

लॉकडाउन के तहत मंगलवार को प्रखंड क्षेत्र के रामपुर, लालजी चौक, चुन्नी, गिधरपट्टी, मकुरजाहाट, लालपुर हाट, महद्दीपुर बाजार, जिवछपुर, भीमपुर सहित विभिन्न चौक चौराहों पर बीडीओ अजित कुमार सिंह, सीओ सुमित कुमार सिंह, थानाध्यक्ष अनमोल कुमार द्वारा एलाउंस करते हुए लोगों को अपने अपने घरों में रहने की बात कही।

बताया गया कि कोरोना वायरस संक्रामक बीमारी है जो एक दूसरे के संपर्क में आने से फैलता है। इसलिए बाहर जाने से बचे एवं बाहरी व्यक्ति के आने पर प्रशासन को अविलंब सूचना दे। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन के उल्लंघन पर प्रशासन द्वारा कड़ी कार्रवाई की जायेगी। राशन दुकान, मेडिकल स्टोर, सब्जी एवं फल दुकान के आलावा खुले पाए गए, सभी दुकान का लाइसेंस रद्द किया जाएगा।

कोई भी वाहन जो अनावश्यक रूप से घूमते या यात्री को ले जाते पाए जाने पर वैसे वाहन मालिक और ड्राइवर पर कार्रवाई की जाएगी। कोई भी होटल, मिठाई स्टोर, आदि नहीं खुलेंगे। एक जगह 5 व्यक्ति या उससे ज्यादा घर के बाहर अनावश्यक रूप से पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी। सड़क पर इधर उधर गंदगी फैलाने वालों, किसी भी कोचिंग संस्थान या शिक्षण संस्थान के खुले पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी। किसी भी स्थान पर शादी, समारोह, उत्सव करवाने वाले परिवार पर कार्रवाई की जाएगी।

- Advertisement -