लोकआस्था के चार दिवसीय महापर्व “छठ” का दूसरा दिन खरना, बाजारों में काफ़ी चहल पहल

0
197
- Advertisement -

सुपौल जिले के छातापुर में लोक आस्था के चार दिवसीय महापर्व “छठ” परंपरागत एवं वैदिक रीति – रिवाज से शुरू हो गया है। पर्व के निमित खरना के दिन आज, बाजारों में आज काफी चहल पहल दिखी।

यहां बता दे कि छठ व्रत के प्रथम दिन यानी बीते बुधवार को व्रतधारियों ने नदी, तालाबों, पोखरों आदि जलस्रोतों में स्नान कर मिट्टी के चूल्हे और जलावन के जरिये अरवा चावल, चना का दाल, कद्दू की सब्जी समेत कई प्रकार के स्वादिष्ट व्यंजन को पकाया और नियम पूर्वक छठ मैया को भोग लगाने के बाद उसे स्वयं ग्रहण किया। व्रतधारी के द्वारा अरमानी भोजन ग्रहण किये जाने के बाद सम्बंधित परिजनों ने इस महाप्रसाद को विधि – विधान के साथ आत्मसात किया और छठ मैया को नमन करने के साथ उनका भी वंदन किया।

- Advertisement -

लोक आस्था के महापर्व छठ के दूसरे दिन यानी आज गुरुवार को खरना यानी खीर का दिन निर्धारित है। इस दिन व्रतधारी दिनभर निर्जला रहकर संध्या में पवित्र जलस्रोतों में स्नान करते हैं और खीर एवं अन्य स्वादिष्ट व्यंजन पकाकर उसका भोग छठ मैया को लगाने के तदुपरांत इस महाप्रसाद को स्वयं ग्रहण करेंगे। व्रतधारी के द्वारा महाप्रसाद ग्रहण किये जाने के बाद सभी सम्बंधित परिजन भी इसे नियमपूर्वक ग्रहण करेंगे और छठ मैया को प्रणाम कर व्रतधारी का आशीर्वाद लेते हैं।

एन के सुशील
कोशी की आस@सुपौल

- Advertisement -