एनएच 91 छातापुर बीरपुर मार्ग पर एक 40 वर्षीय व्यक्ति को तेज रफ्तार की बस ने कुचला।

0
300
- Advertisement -

 

- Advertisement -

एनएच 91 छातापुर बीरपुर मार्ग पर एक 40 वर्षीय व्यक्ति को तेज रफ्तार की बस ने कुचला।

सोनू आलम
कोशी की आस@बलुआ बाजार सुपौल

भीमपुर थाना क्षेत्र में एसएच 91 पर स्थित बैंक ऑफ इंडिया के महज पांच सौ मीटर की दूरी पर शनिवार को तेज रफ्तार बस के चपेट में आने से एक 40 वर्षीय व्यक्ति की मौके पर मौत हो गई। घटना 11 बजे की है। वहीं व्यक्ति के कुचलने के बाद बस चालक मौके से भाग निकला। लेकिन कुछ लोग बस का पीछा करते हुए बलुआ के पुराना रेफरल हॉस्पिटल के पास खदेड़ कर पकड़ लिया। लेकिन तब तक चालक व कंडक्टर भागने में सफ़ल रहा जबकि खलासी लोगों की पकड़ में आ गया। इधर, घटना से आक्रोशित लोगों ने एसएच 91 छातापुर बीरपुर के मुख्य मार्ग को जामकर मुआवजे की मांग करने लगे।

वहीं सूचना मिलने पर भीमपुर, छातापुर, बलुआ और ललितग्राम ओपी थाना अपने दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर लोगों को शांत करने का प्रयाश किया लेकिन आक्रोशित लोग मुआवजे की मांग पर अड़े रहे। जानकारी के अनुसार भीमपुर वार्ड 9 के निवासी दिनेश सिंह टेम्पू लेकर भीमपुर स्टैंड में था। जबकि दरभंगा से चलकर बीरपुर जा रहे बस बीआर 11 पीए 2365 भीमपुर चौक पर रुकने के बाद कुछ पैसेंजर बस में चढ़ने लगा, इस बात को लेकर टेम्पू चालक दिनेश सिंह व बस कंडक्टर के बीच पैसेंजर को लेकर नोकझोक शुरू हो गया, और टेम्पू चालक बस पर सवार हो गया।उसी दरम्यान व्यक्ति बस के चपेट में आ गया। सूत्रों की माने तो भीमपुर स्टैंड के पास बस कंडक्टर के साथ पैसेंजर बैठाने को लेकर टेम्पू चालक से नोकझोक हुई थी। उसी नोकझोक के दौरान टेम्पू चालक बस पर सवार होकर बस कंडक्टर से उलझने के कारण जोर जबरदस्ती में टेम्पू चालक को कंडक्टर से धक्का लग गया और बैलेंस बिगड़ने के कारण नीचे गिर गया। जिसके कारण मृतक बस की चपेट में आ गया और बस उक्त मृतक को कुचलते हुए भाग निकला। हालांकि लोगों ने खदेड़ कर बस और खलासी को पकड़ लिया और बलुआ पुलिस के हवाले कर दिया। जबकि बस चालक और कंडक्टर भागने में सफल रहा। इधर, मृतक पत्नी और चार छोटे छोटे बच्चों का रो रो कर हाल बेहाल है। बताया जा रहा है कि मृतक दो भाई में बड़ा था, और टेम्पू चलाकर अपना घर चलाता था। बहरहाल सूचना मिलने पर छातापुर सीओ सुमित कुमार और बीडीओ अजित कुमार सिंह घटनास्थल पर पहुंचकर लोगों को शांत किया। हालांकि आक्रोशित लोगों ने सीओ के आश्वासन के बाद करीब तीन घण्टे के बाद जाम हटाया। वहीं इस संदर्भ में छातापुर सीओ सुमित कुमार सिंह ने बताया कि मृतक के परिवार को सरकारी प्रावधान के अनुसार उचित मुआवजा दिया जाएगा।

- Advertisement -