सुपौल : शिक्षा मनुष्य के समग्र विकास का केंद्र – अशफाक अहमद

0
534
- Advertisement -
सोनू आलम/बलुआ बाजार/सुपौल
शिक्षा मनुष्य के समग्र विकास का केंद्र है और इसी के आधार पर व्यक्ति आर्थिक, सामाजिक व आध्यात्मिक उन्नति करता है। शिक्षा ही मनुष्य को अपनी सभी संभावनाओं के विकास का अवसर दिलाती है। अल-मनार इन्टरनेशनल स्कूल, नरपत पट्टी के डायरेक्टर अशफाक अहमद ने मदरसा महमूदिया , छिटही पलार के नए तालीमी साल 2019-20 के आग़ाज़ पर उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि शिक्षा से मानव भावनाएं शुद्ध होती हैं, जिससे प्रेरित हो व्यक्ति समाज के कल्याण के लिए कार्य करने को अग्रसर होता है। उन्होंने कहा कि शिक्षा असत्य से सत्य का बोध कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है और व्यक्ति को उसकी क्षमताओं के अनुरूप विकसित करती है। मदरसा महमूदिया को इस दिशा में एक सराहनीय प्रयास बताते हुए उन्होंने आशा व्यक्त की कि यहां पर विद्यार्थियों को गुणात्मक शिक्षा और अच्छे संस्कार मिलेंगे। अशफाक ने कहा कि मिशनरी भावना से किया गया निस्वार्थ कार्य किसी भी संस्था को उसके उद्देश्य तक पहुंचाता है।
इस अवसर पर मदरसा बनात, कदमपूरा , सुपौल के अध्यक्ष मौलाना ज़ियाउल्लाह ज़िया ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि एक शिक्षक का जितना एहतराम किया जाता है उतना ही मदरसा के चपरासी और सिक्यूरटी गार्ड का भी किया जाना चाहिए। मौलाना ताजुद्दीन आज़मी ने कहा कि बाढ़ ग्रहस्त क्षेत्र में ऐसे मदरसा की स्थापना से यहां व आसपास के लोगों को लाभ मिला है।
मदरसा महमूदिया के अध्यक्ष मौलाना नेमतुल्लाह ने सभी मेहमानों का स्वागत किया, मौलाना शफीक (सरपरस्त मदरसा) की दुआ पर प्रोग्राम को अंतिम रूप दिया गया । इस दौरान प्रधान अध्यापक मौलाना मुहिब्बुल्लाह, पूर्व सरपंच मो.जकीर, हाफिज़ मुजाहिद शिक्षक मदरसा सिराजुल उलूम, नरपत पट्टी, जमियत उलमा,सुपौल के अध्यक्ष मौलाना अमानुल्लाह, हाफिज मुस्लिम शिक्षक मदरसा, पिपरा, हाफिज हबीब अध्यक्ष मदरसा सुफ्फा, छिटही सहित अन्य लोग उपस्थित थे।
- Advertisement -