सुपौल : आगजनी से क़रीब दस घरों सहित लाखों का नुकसान।

0
232
- Advertisement -

सुपौल : सोनू आलम/बलुआ बाजार

- Advertisement -

थाना क्षेत्र के भीमपुर वार्ड 7 में गुरुवार की देर रात अचानक आग लगने से चार परिवारों का लगभग दस घर सहित लाखों की नुकसान हो गया। घटना रात करीब साढ़े दस बजे की है। आग लगने से आसपास के लोगों में अफरा-तफरी मच गई। आनन-फानन में लोगों ने घटना की सूचना थाना को दिया। जिसके बाद भीमपुर थानाध्यक्ष ने अग्निशामक की गाड़ी भेजी, लेकिन आग इतना भयानक था कि बलुआ और छातापुर से भी अग्निशामक गाड़ी मंगानी पड़ी। लगभग तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद अग्निशामक और ग्रामीणों के सहयोग से आग पर काबू पाया गया। इस बीच अगलगी में चार परिवारों का लगभग दस घर सहित लाखों का नुकसान हो गया। आग लगने का कारण का पता नहीं चल सका है। जानकारी के अनुसार गुरुवार की रात जब सब सो रहे थे, उसी दरम्यान घर मे अचानक आग लग गई।

घर मे सो रहे, गृहस्वामी ज्योति लाल साह को जलने की गंध लगी और बाहर निकलकर देखा तो घर में आग लगी हुई थी। उन्होंने शोर मचाया, जिसके बाद ग्रामीणों ने घटनास्थल पर पहुंचे लेकिन तब तक आग तीन घरों को अपने चपेट में ले चुका था। इस दौरान ग्रामीणों ने आग पर काबू पाने की भरसक कोशिश की लेकिन नाकाम रहे। आनन-फानन में लोगों ने इसकी सूचना थाना को दिया। थानाध्यक्ष विश्वनाथ प्रसाद रवि ने अग्निशामक को भेजा लेकिन आग की लपटें बहुत तेज थी और आग को संभालना मुश्किल हो रहा था। जिसके बाद छातापुर और बलुआ से भी अग्निशामक वाहन को बुलाया गया। तब जाकर लगभग तीन घंटे के कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। इस दौरान ज्योति लाल साह, श्रवण साह,  सुभाष साह, मौजी लाल साह, सकलदेव साह के कुल दस घर सहित घर मे रखे कपड़ा, बर्तन, अनाज, गहने और जरूरी कागजात जलकर राख हो गया। इस बाबत छातापुर सीओ सुमित कुमार सिंह ने बताया कि रात में अचानक आग लगने से लोगों को काफी नुकसान हुआ है, लेकिन इस अगलगी में किसी की हताहत की सूचना नहीं है। साथ ही पीड़ित परिवारों को सरकारी प्रावधान के अनुसार मुआवजा दिलाने की बात कही।

- Advertisement -