सुपौल :डायवर्सन टूटने से बढ़ी परेशानी, दो मवेशी की मौत।

0
435
- Advertisement -

सुपौल : त्रिवेणीगंज: बलराम कुमार,सोनू आलम

- Advertisement -

त्रिवेणीगंज अनुमंडलीय क्षेत्र के कोरियापट्टी पूर्वी पंचायत के राजगांव वार्ड नं0 3 में सुरसर नदी पर कई वर्षों बाद करीब 8 करोड़ की लागत से पुल बन रही है। उक्त पुल का निर्माण “ओम शंकर कंस्ट्रक्शन” कंपनी के द्वारा बनाया जा रहा है। पुल का कार्य चलने के कारण ठेकेदारों द्वारा आने-जाने के लिए डायवर्सन बनाया गया था, डायवर्सन 2-3 बार टूट भी चुका है। ठेकेदारों द्वारा जो डायवर्सन बनाया गया है वो कम लंबाई की बनाई गई है जबकि नदी की लंबाई ज्यादा है। पानी की वहाव अधिक होने और डायवर्सन की लम्बाई कम रहने की वजह से आम जनमानस को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।

 

सुरसर नदी में ग्रामीणों के मवेशी पानी पीते हैं और गर्मी से निजात पाने के लिए पानी मैं बैठते भी हैं। नदी में करीब 4-5 भैस बैठे थे, आचनक पानी की वहाव ज्यादा होने के कारण पानी की बहाव में एक बड़ी भैस तथाएक छोटी भैस जो वहीं के ग्रामीण रामकृष्ण यादव के थे, टूटी डायवर्सन के नीचे लगे पाईप के अंदर फँस गए। ग्रामीणों ने निकालने की कोशिश भी की लेकिन निराशा हाथ लगी। वहीं कुछ ग्रामीण एवं रामकृष्ण यादव की पत्नी रूबी देवी ने ठेकेदार के जेसीबी चालक को बोला की जेसीबी मशीन लगाकर निकाल दो लेकिन चालक ने बताया की तेल नहीं है और मशीन भी खराब है। रामकृष्ण यादव की पत्नी रूबी देवी ने बताया कि जेसीबी चालक के पांव भी पड़े, एक हजार रुपये भी देने के लिए तैयार हुए लेकिन एक भी नहीं सुनी गई, जिसके कारण हमारा लाखों के नुकसान हुआ। बड़ी भैस सुबह-शाम मिलाकर 8 किलो दूध प्रतिदिन देती थी, हमारी आजीविका का साधन चला गया। ग्रामीणों का कहना था कि अगर समय रहते जेसीबी चालक प्रयास करता तो भैस की जान बच सकती थी।

- Advertisement -